10 inch ka lund meri chikni choot me ghusa diya

sidra aksar net per ajeeb kisam ki pic deakhti rehti thi.jabb men uss se pochti to wo kehti bada maza aata he iss men. aik din pics deakhtey hoey achanak uss ne apna hathm meri tangon per rakh diya orr aahishta aahista aagey peechey phertey ohey meri tangon k darmiyan takk pohanch gaee.men pehley usey hatana chahti thi iss kamm se but phie wo itna maza aa raha tha k kuch na puchen uss ney shalwar k under hi se meri chut k under ungli deni chahi magar kapda beech men aa raha tha . men ne uss se kaha k baki ghar ja kar tumhaey bed par karen gey .12 bajey dopahar hum ghar aa gaey .mujhey itna maza aa raha tha soch soch kar k sidra ne mujhe kitna maza dia.kapdey badaltey hoey men ne apni chut per ungli pheri orr aankhen band kar len.shampo ki botal men en chut par undeal di orr daba daba kar ungli chut men under bahir karni start kar di.takreeban 20 mint badd meri choot men se sufead mada nikla kafi ziyada mikdar men.

Driver ne chod kar meri choot ki pyas bujha di

Ek din mughe meri susral indore suah me jana tha akash kuch kaam se pune gayee hue themene use agle din subah jaldi chalne ka kaha to humesa ki tarah vo humare yahaa so gaya me subah char baje jub uthi to mene socha use uske room me jaker jaga du jese hi mene room ka darwaza khola vo sirf undies me soya hua tha uska badan bahut hi handsome or strong tha uski undies bhi kuch uthi hui thi pehle to me vapas aa gayee magar thori der ke baad me jub phir gayee tto vo abhi tak so raha tha or uski undies me se uska lund saaf utha hua dikhai de raha tha. Mme use dekh ker ye bhul gayee ke me shadi shuda hu mughe to ek jawan strong or haseen larka vo bhi nanage badan dikhai de raha tha. Me uske pass gayee or uski body ko gor se dekhne lagi. Uski body akash ki body se bahut develop thi muscles or chest ekdum strong or chikne the uske pink hoth uska sexy cehra meri nazaro ke samne tha.

Meri dardnak shamihuk rape ki kahani sasural me

Mera naam Neha hai main 28 saal ki hoon aur mera figure 38-32-36 hai. Meri shaadi ho chuki hai mere husband ka naam hai Rajesh hai. meri ye kahani meri shaadi kay baad shuru hoti hai. mere husband Rajesh ka lund 8 inch lamba aur 2 inch mota hai. shaadi ki pehli hi raat Rajesh nay mujhe aagay aur pichay se puri raat choda tha. Ab mere husband mujhe roz chodtay thay is liye meri chodai ki bhook bhi bhadti ja rahi thi. Ghar may Rajesh kay alawa meri Saas, Sasur aur aik nokar Shankar tha. Rajesh ka aik chota bhai bhi tha Ravi jo England paadhnay kay liye gaya howa tha. Mere husband aik multinational company may Finance Manager ki post par job kartay hain. Kahani waha se shuru hoti hai jab mere husband ko company ki taraf se Australia jana pad gaya. Unka visit 6 months ka tha main Rajesh kay janay se bohat udaas thi kyun Rajesh nay mujhe roz chod chod kar mujhe roz chodwanay ki aadat daal di thi.

Papa ke dost ne mujhe berahmi se choda

Ye chudai ki kahani mere papa ki dost ke sath chudai ki hai.aaj main bataungi kaise papa ke dost ne mujhe choda.main chuttiyan guzaarnay ke liye apnay ghar ja rahi thi. Main jis train se jarahi thi us ke baray may main ne ghar may itlaa de di thi ke main kal shaam tak pohanch jaon gi. Train may main is waqt apnay compartment may akeli thi isliye main ne apni aik kitaab nikali aur padhnay lagi. Ye first class compartment tha aur ye compartment 4 afraad ke liye makhsoos tha. Abhi train chali nahi thi aur phir thodi dair baad compartment main aik aadmi aakar beth gaya . Wo koi 60 saal ka hoga wo aadmi lamba aur sehat mand tha. Main ne aik nazar uski taraf dekha aur dobara apni kitaab padhnay lagi. Wo aadmi meri taraf aaya aur meri taraf hath badha kar bola, Hello Sweet Girl mera naam Waseem hai. main ne aik nazar us kay badhay howe hath ko dekha aur mou bana kar wapis kitaab padhnay lagi. Mere mou bananay par us ko ghussa aagaya aur wo jakar apni seat par beth gaya aur mujhe ghor ghor kar dekhnay laga. Main ne usay ignore kar diya aur apni kitaab padhnay lagi. Ab train chal padi thi. Thodi dair baad mujhe peeshab ki hajat hoi to main uth kar sath banay howe bathroom may aagai.

Home tutor se chut chatwa kar chudwaya

ye chudai kahani meri aur meri home tutor ki hai.jab me 9th class me thi tu mujhay tution ki zaroorat mehsoos huwee aur mai nay zid ki kay mujhay bhee ghar par tutor lagwa kar dain, meri zid kay agay hathiar dal kar mery pappa ne mere liye home tution ka intizam kar diya.Meray tutor aik smart young student they, jis ko apni study complete karnay kay liay tution ki bari zaroorat thi,woh dikhnay mein bhot sharif aur masoom say lagtay they, un ki age lag bahg 23/24 saal ki ho gi,Woh apnay masters kay Final year main they. wo mujhy roz 3/4 bajey k qareeb parhaney atey they aur koi 2 hours tution detay they,Hum log karachi k aik posh area me aik apartment me rehtey hain, hamari chhoti si family he jis main mery mammi pappa dadi, aik bhai or me, bhai mujh sey chhota he or abhi School me hey is sey pehely k me asal waqia bataoon yeh bata don k is waqiey sey pehely hi me sex k barey me kafi kuch jaanti thi jo k mujhay net k thorugh aur khuch apnay school ki mod friends ki through janti thi,

Reshma bhabhi ki choot ki pyas

Ek din prashan office se jaldi leave mil gayi aur woh khusi se ghar ki aor badhaa yeh soch kar ki aaj usey uski biwi ko chodne se koi nahi rok sakta. Aaj toh bas poori raat uske saat bistar may pyaar karna hai.
Jab woh ghar pohacha toh uski biwi kitchen may khaana pakaa rahi thi. Prashant andar gaya aur usey peeche se gale lagaaya.Biwi: arey….aaj jaldi aagaye?Prashant: ha, jaldi kaam hogaya. Bas ab aaj raat koi bahaana nahi. Bohat din hogaye tumhaari chudaayi karke. Bas aaj raat mujhe khush kardo.
Biwi: thik hai baba, ab fresh hoojaao nahi toh raat ko phirse so jaayoge.

Saali ki choot aur saas ki gand mari

Meri salej yaani pehle sale ki biwi ka naam tha Sarla. Gehua rang, bhara hua badan, 34 26 34 ke aankre jaisa, gadrayee jawani aur gazab ki sundar. Iccha karti ki daboch kar bas chaba hi daloon. Ithlati hui jab chalti apni saari ko saamne haath se choot ke paas sambhalti hui tab man karta ki bas iski garm choot ko kyon na main hi pakad loon aur masalta rahoon. Saari se voh apni mast aur tanee hui chuchiyon ko bharsak dhakti rehti lekin voh bagal se blouse ke madhyam dikhta rehta. Jhuki hui nigahon se dekhti aur muskara deti. Hamara lauda aur khada ho jaata. Shaam ke kareeb 4 baje the aur main uski taraf dekhe jaa raha tha.Tabhi khilkhilati hui boli, “Kyon Jeejaji, kya chahiye ?” Mere muh se nikal pada, “Tum.” Chaunk kar boli, “Kya kaha ?” Maine jawab diya, “Mera matlab tumhare haath ki ek cup chai.”Chai peekar jaise taise shaam gujri aur raat hui. Ek kamre mein upar palang par mardon ko sone ke liye kaha gaya aur theek niche zameen par aurton ke liye gadde lagaye gaye.

Tauji ne meri chachi ko choda

Ye chudai ki kahani meri chachi ki chudai ki hai.aaj main bataunga kaise chachi ne tauji se chudi,Meri cousin ka naam Komal hai. Uski umar bees saal ki hai. Komal ko dekh ker koi bhi kah sakta hai ki uska naam uske liye bilkul hi suit karta hai. Uska rang gora aur hight five feet six inch hai. Chehra itna sundar hai ki dekhne ke baad har koi apne dil me basaana chahta hai. Aur doosra aadmi jiske baare mein aage bataoonga. Ab main apko us din ki ghatna ki taraf le chalta hoon. Main unn dino apne ghar gaya hua tha. Us samay mere ghar per meri Chachi aur cousin aur ek old man jise hum Tau kah ke bulate hai. Ghar mein inke alawa aur koi nahi tha. Tauji koi mere chachi ke peehar ka rishtedaar hai. Woh kabhi-kabhi meri chachi se milne chala aata hai. Aas paas waale her tarah ki baat udate rahte the. Lekin mera inme koi vishwash nahi tha.

चार लूटेरा ने रात भर मुझे और मम्मी को बेरहमी से चोदा

में अपनी मम्मी के साथ उनके कमरे में थी.मेरा भाई पढ़ कर अपने कमरे में सो गया था.तभी अचानक लाईट चली गयी.रात के करीब ग्यारह बज चुके थे। तभी मम्मी को जीने पर किसी के पैरों की और बात करने की आवाज सुनाई दी.माननी ने मझे खिड़की से बाहर देखने को कहा.मुझे कोई भी दिखाई नहीं दिया.तभी किसी ने घर के दरवाजे पर जोर से दस्तक दी .मुझे लगा शायद पापा जल्दी घर आगये हैं और उनकी गाड़ी लेट हो गयी है .मैं दरवाजा खोल ही रही थी की देखें कौन है.जैसे ही मैं ने दरवाजा खोला तीन लोग दन्न से मम्मी के कमरे में घुस गयी.मम्मी मामला समझती की एक आदमी ने मम्मी के गाल पर जोर का चांटा मार दिया.

लंड की भूखी भाभी की प्यास बुझाई

दोस्तों मेरे भैया दुबई में रहते थे और मेरी भाभी बहुत सुंदर थी.. उनका रंग गोरा और फिगर 36-32-30 था लेकिन वो सेक्स की बहुत भूखी थी.. क्योंकि उनका पति तो उनसे बहुत दूर रहता था।मेरे घरवाले मुझे रोज रात को सोने के लिए उनके घर पर भेज देते थे और में भी वहाँ पर बहुत ज्यादा खुश रहता था.. क्योंकि वहाँ पर हमारे अलावा कोई नहीं होता था और मुझे मेरी पढ़ाई करने में कोई भी रुकावट नहीं होती थी तो में अपनी किताबे लेकर वहाँ पर शाम को चला जाता और हम रात को अलग अलग कमरों में सोते थे और फिर ऐसे कई महीने गुज़र गए। फिर एक दिन मैंने भाभी से कहा कि मुझे भी एक मोबाईल लेना है तो उन्होंने दूसरे ही दिन मुझे बाजार से एक नया मोबाईल लाकर दिया और में उसे लेकर बहुत खुश था और मैंने उसमे बहुत सारी ब्लूफिल्म डाल रखी थी और में हर रात को ब्लूफिल्म देखकर मुठ मारा करता था।

बीवी की मदद से बहन की चुदाई

मेरी बहन ने टीशर्ट और स्लेक्स पहनी थी। फिर इस ड्रेस में मेरी बहन के बूब्स बहुत बड़े लग रहे थे.. उसने शायद ब्रा पहनी थी। फिर नीचे स्लेक्स में उसकी गांड बहुत सेक्सी लग रही थी।फिर जब हम बाहर निकले तो मेरी बहन ने कहा कि भाभी आप तो ट्रेन में सभी मर्दो को मार ही डालोगी। फिर यह कहकर उसने मेरी बीवी के बूब्स पर चिकोटी ली। फिर मेरी बीवी आऊऊच कर गई और कहने लगी कि तू भी कुछ कम नहीं दिख रही.. इस सेक्सी स्लेक्स में तो तेरी गांड क्या खूब लग रही है.. कोई भी आदमी देखेगा तो उसका लंड खड़ा हो जाएगा। फिर इतना कहकर मेरी बीवी ने पायल की गांड पर एक ज़ोर से थप्पड़ लगाया। फिर में चुपचाप सुनता खड़ा था और मन ही मन कामुक हो रहा था। फिर इस तरह की बातें करते हुए हम लोग स्टेशन पर पहुँचे। फिर मैंने वहाँ पर देखा तो सारे आदमी मेरी बीवी और बहन की गांड को घूर- घूर कर देख रहे थे।

फेसबुक फ्रेंड शिल्पा की चुदाई

एक दिन मेरे फेसबुक पर एक फ्रेंड रिक्वेस्ट आई, शिल्पा नाम से . वो मस्त चैट करने लगी. फिर मैंने भी सेक्स चैट शुरू कर दी उसके साथ.फिर हम लोग फेसबुक पर विडियो चैट भी करने लगे. जब भी हम फ्री होते, तो चैट करते और फिर एक दिन वो बोली – मेरी शादी होने वाली है. मैंने चाहती हु, कि एक बार तुमसे मिल लू. शादी के पता नहीं मिल पाए या नहीं. फिर मैंने कहा – शादी के बाद ना ही मिलो तो अच्छा है. कोई परेशानी हो सकती है. तुम्हे क्या फायदा. फिर हम लोगो ने प्रोग्राम बनाया, कि एक मॉल में मिलते है. फिर हम लोग मिले, आइसक्रीम खायी. फिर वो बोली – चलो मूवी देखते है. जब हम हॉल में गए, तो काफी डार्क था मूवी स्टार्ट हो चुकी थी. वो आगे – आगे थी और मैं उसके पीछे उसके कंधे पर हाथ रख कर चल रहा था.

पीछे से चूत में अपना 8 इंच का लंड घुसा दिया

मेरी प्रेमिका बाथरूम से बाहर निकली तो अपने खुले हुए बाल छोटी सी पेंट और टाईट टी-शर्ट में.. तो में पागल सा हो गया और मेरा लंड एकदम रोड की तरह तना हुआ खड़ा रहा था और मुझसे कह रहा था कि मुझे आज़ाद कर दो ताकि में उसकी चूत में जा सकूँ.. उसके बाल उसकी गांड से नीचे आ रहे थे. फिर मैंने उसको पीछे से अपनी बाहों में जकड़ लिया और अपने दोनों हाथों से उसके बूब्स को पकड़ लिया.. दोस्तों क्या बूब्स थे उसके एकदम पके हुए आम की तरह मुलायम, गोल और बड़े बड़े.

टीचर की चूत चाट कर चुदाई की

में जिस मकान में किराए पर रहता हूँ.. वहां पर एक खूबसूरत लड़की कुछ बच्चो को ट्यूशन पड़ाने आती है. जिसका नाम कामिनी है और उसकी उम्र 19 साल है और उसका फिगर ऐसा है कि कोई भी देखे तो उसकी चूत लेने को तैयार हो जाए. उसके फिगर का साईज 32 -27 -34 है और उसका कलर दूध की तरह सफेद है.. वो एक सीधी साधी और घरेलू लड़की है और बीटेक के दूसरे साल में पड़ती है.दोस्तों जब से वो ट्यूशन पड़ाने आने लगी है तब से ही उसे पहली नज़र में चोदने की सोचने लगा था.. क्योंकि वो जैसे ही घर पर आती तो मेरा लंड तोप की तरह एकदम तनकर खड़ा हो जाता और में उसे बड़ी ही मुश्किल से शांत करता और बाद में रात को उसके नाम की मुठ मारता था.

पड़ोसन पूजा की चूत में लंड डाल दिया

पूजा मेरी पड़ोसन थी. वो एक हसीन बला थी और लुक में कमाल थी. उसको देख कर अच्छे – अच्छो का पानी छुट जाए, ऐसा था उसका फिगर ३४ – २८ – ३२. मेरे भाई की जुबान से पूजा का नाम सुन कर, मैं फुला नहीं समां रहा था और उस रात मुझे उसके खयालो में खो कर नींद भी नहीं आई. नेक्स्ट डे पूजा का कॉल आया और उसने मुझे हेल्लो कहा. मैं तो उसकी आवाज़ को सुनकर काफी खुश हुआ और कुछ बोल ही नहीं पाया. उसने कहा – मैं आपको पसंद करती हु. क्या आप भी मुझे पसंद करते हो?

विधवा सास माँ की चूत सेवा मेरी लंड से

मेरी बीवी काफ़ी खूबसूरत और भोली है पर चोदने में अपनी माँ से कोसों दूर है. मेरी मदर-इन-लो, जिन को की प्यार से में सासू माँ कहता हूँ,दिखने में एकदम माल और भगवान ने वासना तो कूट-कूट कर भरी है. मुझे अपनी किस्मत पर ऐकिन नहीं होता की मुझे कभी अपनी वासना की भूख मिटाने को अपने आस पास कोई कमी नहीं पड़ी. मेरी सास जिनका की नाम रामकौर है, में शादी के बाद से देखता आया हूँ वो बहुत सेक्सी लगती हैं.वो 4 बच्चो की माँ है पर दिखने मे अपनी 22 साल की बेटी की बड़ी बहिन लगती हैं. भगवान ने भी हर जगह में माँस (फ्लेश) दिया है वैसे तो जब मेरा रिस्ता उनकी बेटी से तय हुया था, तब से ही मुझे इशारों मैं किसी ने बताया था और एक आस दी थी, की बेटा तू बड़ा किस्मत वाला होगा अगर तू ये शादी के लिये हाँ कर देगा.

मौसी की प्यासी चूत की चुदाई

मौसी की शादी नही हुई थी, मौसी बहुत बेहतरीन माल है एकदम जब्रदस्त खूबसूरत है में तो उनका ज़माने से दीवाना था बस मोके नही मिल रहे थे, मौसी बी.एड कर रही थी ओर दिन मे उनका कॉलेज रहता था ओर दोपहर को वापस घर आती थी, मौसी के साथ माँ,नाना,नानी भी रहते है,पर वो तीनो जॉब करते है तो सब अपने ऑफीस निकल जाते है सुबह ओर दोपहर मे ही मौसी अकेली रहती है.में अक्सर उनके यहा किसी भी टाइम चला जाता था, पर 12वी मे मैने कोचिंग उनके घर के पास ही लगा ली,वैसे मौसी के साथ मेरा रिश्ता शुरू से ही दोस्त जैसा है क्योकि उनकी ओर मेरी उम्र मे सिर्फ़ 6 साल का ही अन्तर था,हम दोनो काफ़ी मज़ाक मस्ती,डांस भी करते थे,ओर कभी वो मस्ती मे मुझे गालो पर किस भी कर दिया करती थी,में जब उनके यहा पढाई करता था तो हमेशा मौसी के साथ ही सोता था,ओर जब रात को सब सो जाते थे तो मौसी मेरे से चिपक जाया करती थी,क्या बताऊँ दोस्तो मेरा तो लंड खड़ा हो जाया करता था।

चोद चोद कर भाभी को प्रेग्नेंट कर दिया

शालिनी भाभी एक मस्त फिगर वाली लेडी थे. वो ब्लोंड थी, एकदम वैसे जैसे ब्लू फिल्म में होती है. उनकी हाइट ५.४ फिट के आसपास होगी और एकदम से गोरा बदन और फिगर ३६ – ३८ – ३० का होगा. अगर कोई एक बार उनको देख ले, तो दौबारा पलट कर जरुर देखता था. मैं मन ही मन में सोचता था, कि कैसे मुझको मौका मिले और मैं भाभी को चोद पाऊ. कई बार मैंने उनको मजाक में कह भी दिया था. कि मुझे आपके साथ सेक्स करने का मन है. वो मेरी किसी भी बात का बुरा नहीं मानती थी. वो एक बहुत ही शांत नेचर की लेडी थी और हमेशा ही चुपचाप रहती थी. लगता था मानो मन ही मन किसी बात को लेकर दुखी थी वो.

अपनी जवान माँ के साथ सेक्स

एक रात बारह बजे बिजली चली गयी.जिसकी वजह से गरमी के मारे बसंती की नींद खुल गयी. और वह एक हाथ वाल पंखा से अपने आपको और चांग को हवा दे रही थी. लेकिन उस से बसंती को राहत नहीं मिल रही थी. वो कुछ क्यादा ही परेशान हो गयी थी. क्यों की उसे दिल्ली की गर्मी बर्दाश्त करने की आदत नही हुई थी. तभी चांग की नींद खुली तो उसने देखा कि उसकी माँ गरमी से बेहाल हो रही है. चांग – क्या हुआ? सोती क्यों नहीं?बसंती – इतनी गरमी है यहाँ.चांग – तो इतने भारी भरकम तौलिया क्यों पहन रखे हैं?बसंती – मेरे पास तो यही हैं. चांग – गाउन नहीं है क्या? बसंती – नहीं. चांग – तुमने पहले मुझे बताया क्यों नहीं? कल मै लेते आऊँगा.

भाभी ने पहली बार अपनी गांड में लंड लिया

भाभी मुझसे 5 साल बड़ी है लेकिन दोस्तों उसका क्या फिगर है एकदम मस्त बड़े बड़े.. वो इतने बड़े है कि उनके ब्लाउज से बाहर आने को हमेशा तैयार रहते है. उनकी गांड बहुत सेक्सी है. उसको देखकर मेरा लंड कभी भी खड़ा हो जाता है और वो दिखने में बहुत ही सेक्सी है. दोस्तों अब में आप सभी का ज्यादा समय खराब ना करते हुए सीधा अपनी कहानी पर आता हूँ.फिर एक दिन गावं जाने के बाद में दो तीन दिन ऐसे ही इधर उधर घूमता रहा. फिर एक रात को मैंने भैया के कमरे से कुछ आवाज़ सुनी और जब मैंने उठकर कमरे की खिड़की के एक छोटे से छेद से अंदर देखा तो भैया, भाभी दोनों 69 पोज़िशन में थे और यह सब देखते ही मेरा 8 इंच का लंड खड़ा हो गया और दोस्तों क्या बताऊँ..

अपनी दीदी की चूत में लण्ड डाला

दीदी ने उसके बच्चे को दूध पिला रही है वो भी पूरा ब्लाउज़ खोलके और भैया आराम से बैठ के देख रहा है मैने सोचा कि बच्चा को दूध पिला रही है तो उसमे शक करने कि बात नहीं है। फिर भी मेरे मन मे शांति नहीं था सिर्फ़ उन दोनो का है बात दिमाग में हर वक्त चलता था। कुछ महीने के बाद रात मे मैं धीरे से घर आया रूम में दीदी, भैया और दीदी का बच्चा सब सो रहे थे तो मैने डिनर करने के लिये किचन में गया और तभी पावर कट हो गया। तो मैने खाना लगा के हाल में आया तो रूम के अंदर से कुछ आवाज़ आ रही थी (भैया का रूम तो हाल में अटैच था। ) थ मेरे को शक हो गया कि रूम में शायद हो दोना कुछ कर रहे हैं और मैने धीरे से रूम के दरवाज़ा पर कान रख के सुना तो पया कि मेरे भैया बड़ी जोर से सांस ले रहा था और दीदी भी कुछ अजीब से आवाज़ कर रही थी।

भाभी के साथ सुहानी सुहागरात

भाभी और दादी ही अब घर में थे।भाभी ५ बहनों में सबसे छोटी है व उस वक्त सिर्फ १* साल की थी जबकि मेरे भैय्या ३५ साल के थे , इस बेमेल शादी का कारण भाभी के पिता का न होना व बहुत ही गरीब होना था इधर बेरोजगार व नशेडी होने के कारण भैय्या की भी शादी नहीं हो रही थी किन्तु ताऊ जी पुलिस में इंस्पेक्टर थे अतः उन्होंने किसी तरह चक्कर चला कर यह शादी करवा ली। भाभी क्या थी बिलकुल अप्सरा , इतनी खूबसूरत कि छू दो तो मैली हो जाये। लेकिन मेरे मन में उनके लिए कोई भी गलत विचार नहीं था। उस दिन जब मै भैय्या को स्टेशन छोड़ कर घर आया तो मैंने भाभी की कमर में हाथ डाल कर कहा ,

दोस्त की विधवा मम्मी को रखैल बनाया

दोस्त की मम्मी करीब 39-41 की होंगी, चौड़ी छाती और सेक्सी गांड. वैसे मैं आप लोगो को मेरे बारे में तो बताना ही भूल गया. मेरा नाम अनिल राजारी हैं और मैं 19 साल का हूँ, मुझे आंटी और भाभियों की चूत मारना बहुत ज्यादा ही पसंद है. दोस्त की पिताजी का देहांत कुछ 4 साल पहले हुआ था. इसका मतलब 4 साल के बिन्नो आंटी की चूत तरसी हुई थी. मुझे लगा की यहाँ काँटा डाला तो बड़ी मछली फसेंगी. बिन्नो आंटी एक बेंक में काम करती थी और तगड़ी तनख्वाह लेती थी. मैं अगले दिन से सुशिल के घर ज्यादा से ज्यादा जाने लगा और आंटी को आँखों से ही चोदने लगा. आंटी सुशिल के होने के कारण शायद ज्यादा बात नहीं करती थी मेरे साथ. मैंने एक दिन सुशिल को मेरे दोस्त अनवर के साथ बाजू वाले गाँव भेज दिया और खुद सुशिल के वहाँ चला गया.

दीदी की दूध चूस चूस कर चुदाई की

मेरी बड़ी दीदी उर्मिला. मेरी दीदी का उम्र 26 साल है और दीदी की सादी हो गई है और उनको एक बच्चा भी है. ये कहानी आज से 2 साल पहले की है जब मैं 20 साल का था. मुझे खीर बहुत पसंद है. बच्चा होने के बाद दीदी हमारे घर रहने के लिए आई एक दिन मुझे खीर चाहिए था लेकिन घर मे दूध नही होने के कारण मुझे खीर नही मिला. मैं उदास हो गये तो दीदी ने पूछा क्या हुआ, उदास क्यूँ हो? मैं बोला मुझे खीर खाना है और लेकिन घर मे दूध नही है.फिर दीदी वहाँ से चली गई और कुछ देर बाद आई और कहा खीर खाना है, तो मैने कहा हाँ तो दीदी ने कहा ठीक है और दीदी चली गई और करीब 1 घंटे बाद दीदी खीर लेकर आई तो मैने पूछा की दूध तो था नही तो दीदी ने कहा की बेबी वाला दूध है उसी से बना दिया. मैने खीर खाई तो मुझे बहुत अच्छा लगा मैने कहा दीदी आप रोज़ मुझे ऐसी ही खीर खिलाया करो तो दीदी हस्ने लगी और कहा ठीक है,

चूत फाड़ कर गर्लफ्रेंड की चुदाई

मेरी गर्लफ्रेंड सुगंधा बड़ी ही खुबसूरत है, हाइट ५.५ होगी और उसका फिगर ३४ – ३० – ३६ का होगा. देखने में बहुत ही खुबसूरत है, लम्बे बाल है. जो उसकी खूबसूरती में चार चाँद लगा देते है. उसे सूट पहना बहुत अच्छा लगता है और जब वो खास कर पंजाबी सूट पहनती है. तो उस टाइम मन करता है.. कि बस अब उसे चोद ही डालू.चलो, अब मैं स्टोरी पर आता हु. बात तब की है, जब मैं सेकंड इयर में था और वो १स्ट इयर में था और ऐसे हम के मिलते बहुत थे कॉलेज में डेली और कभी मूवी जाते.. तो वहां किस और बूब्स प्रेस्सिंग करते थे. पर कभी आगे नहीं पाए, क्योंकि कोई प्लान नहीं बन पा रहा था. तो हम एक दिन रात को फ़ोन पर फ़ोन सेक्स करते थे और एक दुसरे को सेटइसफाई करते थे.

भाभी की रस भरी गर्म चूत में लंड

भाभी बहुत हॉट थी और वो मुझे शुरू से ही अच्छी लगती थी. मैंने मन में उनके लिए कुछ गलत नहीं था. सब कुछ ठीक और अच्छे से चल रहा था.ये तक़रीबन २ साल पुरानी बात है. जब मैं कॉलेज जाता था, तो भाभी किसी ना किसी काम से बाहर आती थी और मुझे देख कर स्माइल करती थी. पहले तो मुझे लगा था, कि ये कोइंसिडेंट है. लेकिन फिर ये रोज़ – रोज़ होने लगा. पर मैंने इस बात पर कुछ ज्यादा ध्यान नहीं दिया. फिर कुछ दिनों बाद, मेरी पूरी फॅमिली को कहीं फंशन के लिए ४ – ५ दिन के लिए बाहर जाना था और मेरे एग्जाम चल रहे थे. इसी वजह से मैं नहीं जा सकता था. सो मम्मी ने मेरे खाने के लिए नीचे बोल दिया और नीचे पता चला, कि उनकी फॅमिली में सिर्फ भाभी और उनका बेटा ही है. उनके किसी रिश्तेदारी में डेथ हो गयी थी.

भाभी और उनकी बहन की चुदाई एक साथ

मेरे पड़ोस का मकान किसी पंजाबी परिवार ने ख़रीदा और उस परिवार में तीन सदस्य रहते थे पति बलजीत उम्र 29 साल , पत्नी अंजलि 26 साल- मस्त बदन 34 -28-32 का सेक्सी शरीर और उनकी साली प्रीत उम्र 24 साल, तराशा हुआ कातिल पंजाबन शरीर 32-28-30 (उसे देखकर तो दो दिन तक बस आँखों में उसकी तस्वीर छप गयी और बाथरूम भी उसके नाम से मेरे लण्ड के वीर्य के फव्वारों से नहा गया), जो वहीं पर अपनी पढाई कर रही थी । बलजीत और उसकी पत्नी की शादी को 2 साल ही हुए थे और दोनों साथ ही ऑफिस जाते थे और प्रीत अपने कॉलेज और उसके बाद अपनी आर्ट क्लास में जाती थी।

टूशन टीचर और स्टूडेंट की सेक्स कहानी

आज जो चुदाई कहानी आपको सूना रहा हु, वो मेरी एक स्टूडेंट की है, जिसका नाम सिमरन है, सिमरन अठारह साल की है, गजब की सुन्दर लड़की है, भगवान् ने क्या खूबसूरत चेहरा दिया है, उसकी छोटी छोटी चूचियाँ जिसपे हलके पिंक कलर के निप्पल गजब का लगता है, यार क्या बताऊँ चूचियाँ टाइट टाइट सी छोटी छोटी जब मेरे हाथ में आती है तो मेरा तन बदन में आग लग जाता है, और मेरा लौड़ा सलामी देने लगता है, मेरी धड़कन तेज हो जाती है और तुरंत ही उससे बाहों में भर लेता हु और उसकी जिस्म की गर्मी और तेज तेज साँसे जब मेरे शारीर को छूती है तब मुझे शकुन मिलता है.सिमरन मेरे बात विचार से काफी प्रभावित थी,

भाई ने माँ बनाया - भाई बहन की नाजायज सेक्स रिश्ते

आज की सेक्स कहानी में मैं हु, मेरा भाई विनय और मेरा पति राजू, मैं अभी 24 साल की हु, मेरी शादी 21 साल में चंडीगढ़ के एक बड़े ही सम्भ्रान्त व्यापारिक परिवार में हुआ है, मेरे घर में मेरे पति के अलावा मेरे सास ससुर है, मैं थोड़ी गरीब फैमिली से हु इस वजह से मेरी शादी यहाँ हुई है क्यों की मेरा पति डिसेबल्ड (विकलांग) है. उनका दिमाग थोड़ा कम चलता है. वो सुन्न दिमाग के है, वो क्या कर रहे है कुछ भी नहीं पता, क्या बताऊँ दोस्तों ऊपर से मेरी सास बच्चा दो बच्चा दो बच्चा दो, अरे भाई मैं बच्चा कहा से दू जब तेरा बेटा मुझे चोद ही नहीं सकता. दोस्तों मेरी शादी हुई, मैं जवानी से भरपूर, मेरी चूचियाँ तनी हुई, गांड का उभार का क्या बताऊँ,

गैर मर्द के साथ मेरी माँ की सेक्स कहानी

मम्मी की उमर करीब 42 साल रही होगी अब तो इस घटना को 1 साल बीत चूका है।मुझे माँ ने कहा कि मैं  जानवरों को चारा देने जा रही हूँ  ,माँ ने मुझे कहा की तू पढ़ाई कर  मैं वहां गया तो रात के 9  बजे थे तक बस  अभी गई और अभी आई ,माँ लगबह 10 मिनट मी आ जाया करती थी पर माँ अभी तक नहीं आई थी ,मेरा मन घर में नहीं लगा मैं भी गोशाला की तरफ चला गया गोशाला की लाइट जल रही थी लेकिन दरवाजा अंदर से बंद था मुझे कुछ शक हुआ और मैं खिड़की की तरफ से देखने की कोशिश करने लगा ,खिड़की भी बंद थी पर अंदर का साफ़ दिख रहा था क्योंकि खिड़की पुराणी पड़  चुकी थी ,मैने अंदर माँ के साथ गांव के एक अनजान मर्द  को देखा जो  काफी तंदरुस्त था उसने माँ को अपनी छाती में भींच रखा था और पीछे से माँ की दुदियाँ दबा रहा था था ,माँ की आंखेंं बंद थी और माँ उसश : उशहह कर रही थी ,

Indian sex story

Delicious Digg Facebook Favorites More Stumbleupon Twitter