भाभी के साथ वाइल्ड सेक्स

भाभी के साथ सेक्स कहानी की शुरुआत कुछ ७-८ महीने पहले से होती हे. में और मेरे कुछ फ्रेंड्स एक रेंटेक फ्लेट के आगे वाले घर में एक भाभी रहती हे. ये बात मुझे दुसरे दिन ही पता चल गयी थी एक दिन एसे ही सुबह उठा और फ्लेट की गेलरी में घूम रहा था. तभी मेरी नजर हमारे सामने वाली भाभी पे गयी, वो निचे कपडे धो रही थी. उस टाइम भाभी की गली दिख रही थी. और मेरा लंड कड़क हो रहा था. इसी तरह भाभी को रोज़ देखना मेरा रूटीन हो गया था. और उसके बाद भाभी के नाम की मुठ भी मारता था. भाभी कभी कभी हमारे उपर वाले फ्लेट के उपर वाले टेरेस पे कपडे सुखाने आरी टब में जान बुज कर उन्हें देखने टेरेस पे झाके रहता.


पहले तो ज्यादा कुछ नहीं हुआ कुछ दिनों बाद भाभी को भी पता चल गया की में उन्हें रोज़ ताकता रहता हूँ. स्टार्टिंग में तो उतना भाव नहीं मिला बट कुछ दिन होने के बाद रिस्पोंस मिलना शुरू कुआ. बहोत बार हमारे आईज कोंटेक भी हुए. बट बात उससे आगे नहीं बढ़ रही थी. भाभी के हसबंड किसी प्राइवेट जॉब में थे. और कभी कभी कुछ दिनों के लिए बहार भी रहते थे. आप ये कहानी रियल हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। वो कुछ दिनों बाद घर वापस आये थे. टब हमारा डेली रूटीन थोडा बिगड़ गया था.एक दिन वो हमारे टेरेस पे कपडे सुखाने आई. टब में वह उनका ही वेट कर रहा था. हमारा आईज कोंटेक हुआ और स्माइल भी पास हुई. पर वो थोड़ी डर रही थी.में समज गया व्हाट एक्चुअल प्रॉब्लम फॉर धिस. में उनके हेल्प के लिए पहोंचा और और कपडे सुखाने में उनकी मदद कर रहा था. टब वो थोड़ी भीग गयी थी और उसकी साडी उसकी बॉडी से चिपक गयी थी. उसके कारण उसके सेक्सी कर्व्स मुझे और एक्साईट कर रही थी.तभी मेरा लंड कडक हुआ और पेंट टेंट बन गया. और शायद ये बात भाभी ने नोटिस की बट कुछ बोली नही. उसके बाद मेने हिम्मत करके उनका नम्बर माँगा. बट उन्होंने रेफ्युज कर दिया. पर नेक्स्ट दे उन्होंने एक चिट पे अपना नंबर लिख के मुझे दिया और मेने अपना और बोली की खुद हो की कोंटेक मत करना.उस रात करीब १०-३-११ के करीब उसका मेसेज आया और हमारी चेटिंग सुरु हुई. एसे ही जनरल बाते करते करते भाभी ने पूछा

भाभी: तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड हे….?

में: फिल हल तो नहीं.

भाभी: जूठ मत बोलो, अब मुझसे क्या चुपाना.

में: अरे सच भाभी आई ऍम सिंगल.

भाभी: इसी लिए वेसी हरकते करते हो.

में: केसी..?

भाभी: वही टेरेस वाली….

में: स्माइल…….

भाभी: वेसे तुम्हे केसी गर्लफ्रेंड पसंद हे…?

में: आप जेसी….

भाभी: अच्छा एसा क्या पसंद हे मुजमे…?

में: सब कुछ स्पेसिकली आपका बोम्ब ब्लास्टिंग फिगर!

( नो रिप्लाई फ्रॉम भाभी)

में: इफ यु डोंट माइंड विल यू बी माय गर्लफ्रेंड…?

भाभी: आई ऍम मेरिड स्टुपिड.

में: ओके (विथ सैड एक्सप्रेशन)

भाभी: वेसे क्या करेगा तू मुझे तेरी गर्लफ्रेंड बना कर….?

में: आप बस रेडी हो जाए.

भाभी: एक शर्त पे आज से हम गर्लफ्रेंड बॉयफ्रेंड की तरह ही बात करेंगे. और तुम मुझे मेरे नाम से बुलाते जाओ.

उसने ये भी बताया की उसके पति का बहार किसी के स्थ चक्कर हे और वो उसमे ज्यादा इंटरेस्ट नहीं लेता. टब में बोला वो जरुरत में पूरी करूँगा.

उसके बाद हमारा फोन सेक्स सुरु हुआ. और हमे जब जब मौका मिलता हम फोन सेक्स करते और में उसके नाम की मुठ मारता और वो मेरे नाम की ऊँगली करती. और उसके मॉनिंग की आवाज़ नुजे सुनती. वो सुनके में और एक्साईटेड हो जाता.कुछ दिन बाद उसके हसबंड को काम के लिए कुछ दिन बहार जाना पड़ा. और हमे हमारी फाँटसी पूरी करने का मौका मिला. फिर हमने रात को उसके ही घर पर मिलने का प्लान बनाया वो बोली जब आजूबाजू कोई ना हो टब चुपके से विंडो से घर में आना. पर में उसकी बात ना मानते हुए दोपहर में ही उसके घर चला गया. तब वो किचन में सलवार सूट पहने थी और जस्ट नाहा के ही आई थी. क्यू की उसके बालो का पानी उसकी बाख को गिला कर रहा था.में चुपके से उसके पीछे गया और उसे पीछे से हग किया और उसके गिले बाल हटाकर उसकी नैक को किस कर रहा था. तब मेरा लंड अपने आप उसकी गांड पे सेट हुआ था. काजल भाभी एक दम से चोक गयी और मुद गयी. उसके मुड़ते ही मेने उसके लिप को किस करना स्टार्ट कर दिया. तब वो मुझसे चोटते हुए बोली.आप ये कहानी रियल हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है।
भाभी: सच में पागल हो गया हे टू. किसी को पता चल जाता तो…?
में: तो टेंसन मत ले स्वीट हार्ट और पागल तो तूने ही किया हे.
और में उसके और करीब गया टब वो खुद ही मुझे किस करना स्टार्ट कर दी. और जोरो से समुच कर रही थी. और उसके हाथ मेरे बालो में सहला रही थी. आप ये कहानी रियल हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। मेने काजल को किस करते करते ही वह से उठाया और होल के सोफे पे ले आया. फिर उसके नेक पे किस करना चालू किया और वो सिस्कारिया भर रही थी. फिर में उसके बूब्स पे आया और सलवार के उपर से ही उन्हें किस किया और बाद में उन्हें जोरो से दबा रहा था. और वो बोल रही थी यू ड्राइव मी क्रेजी बेबी. ओह कम ओन और सिस्कारिया भर रही थी.फिर मेने उसे उठाया और काजल को पीछे से पकड़ा और उसके गांड में अपना लंड फिट करके दबा रहा था और उसके नेक और कान पे किस कर रहा था. वो पागलो की तरह सिस्कारिया भर रही थी. आआआअह्ह्ह्हह्ह स्स्स्सस्स्स्सस्स्स्शह्ह्हह्ह्ह्हह ह्ह्हह्ह्ह्हम्मम्मम्मम्मम्मम कम ओं बेबी. तूने तो मुझे पागल ही कर दिया. आआअआआअ ह्ह्ह्हह्हह्ह्ह्हह्ह आयाआया ययययआआअ और मेरे लंड को चूसने की कोसिस कर रही थी.उसके बाद मेने भाभी का पूरा सलवार सूट निकाला टब वो बस ब्रा और पेंटी में थी. वो उसके ब्लैक कलर की ब्रा पेंटी उसके गोर बदन पे तूफ़ान ढा रही थी. और में उसकी पूरी बोडी पे पागलो की तरह किस कर रहा था. थोड़ी देर में उसने भी मेरे कपडे निकाले और मुझे सिर्फ अंडरवियर पे किया. और मेरे लंड को उपर से ही सहला रही थी. फिर उसने बेडरूम में चलने के लिए कहा. मेने उसे उठाया और हम एक दुसरे को पागलो की तरह केस करते करते बेडरूम में चले गए.

बेडरूम में पहोचते ही मेने उसकी ब्रा निकाल फेंकी और उसके बूब्स को दबाने और चूसने लगा. टब वो उसके निपल सक करने का मजा था वो कुछ अलग ही था. और काजल उसें आँख बंद करके एन्जॉय कर रही थी और बोल रही थी.ऊऊऊओह्ह्ह्हह्ह य्य्य्यय्यआआआ बेबी. ह्ह्ह्हह्ह्ह्हम्मम्मम सक्क मी लाइक डट. आआआअह्ह्हह्ह्ह्ह स्स्स्सह्ह्ह्हह्ह.फिर में धीरे धीरे उसके पेट को सहला रहा था.और पेट पर किस कर रहा था. उससे काजल भाभी और भी एक्साईटेड हो रही थी. उसके बाद में उसके चूत तक पहोचा. उसके उपर की पेंटी थोड़ी ढीली हो गयी थी. आप ये कहानी रियल हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। मेने उसे भी धीरे से निकाल फेकी. टब यार मुझे जन्नत मिल गयी थी. जिस चीज का में वेट कर रहा था. वो मेरे आँखों के सामने थी. फिर मेने उसे चाटना सुरु किया टब काजल भाभी मेरे सर को पकड़ के उसकी चूत में दबा रही थी और जोरो से मौन कर रही थी.स्स्स्सस्स्स्सह्ह्ह्हह्ह खा जाओ मेरे राजा इसे तुम्हारी ही खुजली लगी हे. आज इसकी आग मिटा दो डालडे तेरा लंड इसमें. आआअआआअह्ह्ह्हह्हआआआअ, ऊऊऊह्ह्ह्हह्हआआआ बेबी, आई ऍम कमिंग डार्लिग, आई ऍम कमिंग ऊऊऊह्ह्हह्ह्ह्हआआआऔर मौन करते करते ही ज़द गयी. थोड़ी देर में उसने मेरी अंडरवियर निकाली और मेरे लंड को ब्लोजॉब देना सुरु किया. टब मुझे जन्नत में होने का फिल हो रहा था. और में एक्साईटेड होक मुह में ही शॉट लगा रहा था. और अक्सईटमेंट में में भी सिस्कारिया भर रहा था. फिर थोड़ी देर बाद मेरी बॉडी में एकदम सा करंट दोड़ने लगा और में झड़ने वाला था और मेने काजल भाभी को बोला की बेबी आई ऍम कमिंग आआअआआह्ह्ह्हहह्ह्ह्हह भाभी ने ब्लोव्जोब कंटिन्यु रख्खी और मेरे लंड को ब्लोजॉब देने लगी और में उसके ही मुह में झड गया. कैसी लगी भाभी के साथ सेक्स , रिप्लाइ जररूर करना , अगर कोई मेरी भाभी की चूत की चुदाई करना चाहते हैं तो उसे अब जोड़ना Facebook.com/PreetiSharma

1 comments:

Indian sex story

Delicious Digg Facebook Favorites More Stumbleupon Twitter