Home » , , , » चुदाई की प्यासी पड़ोसन की जवान चूत की कहानियों

चुदाई की प्यासी पड़ोसन की जवान चूत की कहानियों

ये मेरे लाइफ की पहली चुदाई की घटना हे. एक दिन रात को टॉपिक पे बात करते हे हम सेक्स हे टोपिक पे हम आ गए. एंड बातो में इतना खो चुके थे की पता ही नहीं चला हम कब फोन सेक्स करने लगे. उसके बाद वो फोन कट करके सो गयी. और मेरे को भी थोड़ी सी सर्मिंदगी महसूस हुई. फिर उसके अगले दिन बस चेट में ही बात किये. फिर रात को फिर से बात करते करते सेक्स चेट करने लगे एक दिन उसने दोपहर में मेसेज किया कहा की आज रात उसकी मोम और डेड किसी पार्टी में जाएंगे. और कल सुबह लौटेंगे. तो हम घर पर मिल सकते हे.


बस तब क्या था में बहुत खुस होके उसके घर गया और जेसे ही जेसे ही घर में घुसा वो ब्लू शोर्ट और एक रेड टीशर्ट में थी. बस मेने जाते ही उसको हग कर लिया. और वो भी मेरा साथ दे रही थी. उसके फोरहेड से किस करते करते में उसके लिप्स तक पहोंचा तो वो इतनी एक्साईट हो गयी थी की मेरे लिप्स बाईट करने लगी एंड मेरे दिक् को जिन्स के उपर से मसल ने लगी. और में उसके बूब्स प्रेस कर रहा था. और वो हलके हलके मौन कर रही थी.तभी में रुका और उसकी टीशर्ट निकाली. उसने रेड ब्रा पहनी थी जेसे ही मेने उसकी ब्रा निकाली में पागल सा हो गया उसके पिंक निपल और एक दम इरेक्ट निपल देख के में उन्हें लिप्स में भरके बहोत सक किया. आप ये कहानी रियल हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। फिर उसने मेरी टी शर्ट निकाली और मेरी बेल्ट खोल के जिन्स को निचे किया और में उसकी हेल्प करके जिन्स निकल दिया और फिर उसका शर्ट निकाला और फिर वो वाइट फ्लावर वाली पेंटी पहने हुई थी. जो पूरी तरह से उसके प्रे कम से चिप चिपी हो गयी थी.फिर हम बेड पे लेट गए और में ने उसकी चूत को अपनि जीभ से चाटना सुरु किया. तो जेसे वो पागल सी हो गयी और मेरे बाल नोचने लगी. तभी एक दम मेरे मुह पे कुछ गरम गरम सा महसूस हुआ. वो उसका कम था. फिर मेने उसे मेरे दिक् को ठीक करने को कहा. तो वो मन करने लगी. फिर मेने कहा तो ठीक हे चूत में डाल देता हूँ. वो मेरा देख के बोली ये तो इतना बड़ा हे की इसको अन्दर केसे लुंगी. मेरे होल में तो ऊँगली डाल ने से भी दर्द होता हे. फिर मेने उसको मनाया कहा थोडा दर्द सेहन करोगी तो इससे भी कई ज्यादा माजा आएगा. नै करोगी तो….. वो मान गयी और मेरे को ओइल लाने को कहा. फिर मेने अपने लंड पे ओइल लगाया और उसकी पुसी पे फिर उसकी टाँगे खोलके ऊँगली से उआकी चूत को और मेरे लंड का टाइप उसके होल पे रख के उसके उपर लेट गया.और उसके लिप्स को लौक कर लिया अपने लिप्स से और जोर से एक धक्का मारा तो उसके मुह से आवाज़ आ गयी और मुझे हटने को कहने लगी बट में हिला नहीं और फिर से उसको किस किया और उसके निपल्स को रब करा फिर कुछ देर बाद अचानक से एक और धक्का मारा और उस टाइम वो चीख पड़ी और रोने लगी और मेने झुक के देखा तो आधा लंड ही अन्दर गया था. और मेरे लंड में भी दर्द होने लगा.

फिर कुछ देर रुक के मेने एसे ही हलके हलके धक्के मारता रहा. और कुछ ही मिनट में वो भी सपोर्ट करने लगी और मेरे लंड में दर्द की वजह से में २० मिनट तक चोदता रहा. बट मेरा निकला नहीं और वो दो बार झड चुकी थी. फिर जब मेरा निकलने वाला था तो मेने उससे पूछा अन्दर छोड़ दूँ क्या….? तो वो कुछ बोल नहीं पायी बस ना में सर हिला दिया. और मेने अपना लंड निकाल के उसके पेट पे सारा माल छोड़ दिया. मेरे लंड पे अपनी चूत का खून देख के वो घबरा गयी बट मेरे समज ने पे समज गयी.फिर हम बात रूम गए और एक दुसरे को साफ किया. और उसके नंगे बदन को देख के मेरा लंड फिर से तनतनने लगा और वो हल्का सा मुस्कुराई और लंड को पकड़ के हिलाने लगी. आप ये कहानी रियल हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। फिर मेने उसको डोग्गी स्टाइल में किया और लंड उसकी चूत पर पल दिया और अब उसको दर्द भी नहीं हो रहा था इस बार वो मुह से आःह्ह्ह ऊऊफ़्फ़ फ़क में हार्ड रॉकी करके बोल रही थी और में भी उसकी हिप्स पर थप्पड़ मर मारके धक्के मारे जा रहा था और कुछ देर बाद हम दोनों एक साथ झड गए और साफ करके बेड पे आके लेट गए. फिर जब मेने टाइम देखा तो २ घंटे बिट गेये थे. मेने अपने कपडे पहने और में घ वापिस आ गया. कुछ देर बाद उसका फोन आया की उसकी चूत में सुजन आ गया हे और बहोत दर्द भी हो रहा हे तो में जा के एक पेन किल्लर दे के आया उसके बाद हमने बहोत बार सेक्स किया.कैसी लगी प्यासी पड़ोसन की सेक्स स्टोरी , रिप्लाइ जररूर करना , अगर कोई मेरी पड़ोसन की चूत की चुदाई करना चाहते हैं तो उसे अब जोड़ना Facebook.com/NehaSharma

1 comments:

Indian sex story

Delicious Digg Facebook Favorites More Stumbleupon Twitter