Home » , , , » बड़ी गांड वाली सेक्सी टीचर की चुदाई कहानी

बड़ी गांड वाली सेक्सी टीचर की चुदाई कहानी

यह चुदाई कहानी मेरी और मेरे हॉट टीचर नम्रता मेडम की हैं.मेडम का नाम लेते ही मेरा खड़ा हो जाता हैं यार! उनका फिगर ३४ २८ ४० का होगा और जिसने भी उनकी वो बड़ी गांड को देखा उसे छूने का मन हो ही जाता था. मेडम दिखने में गोरी हैं और करीब ६ फिट जीतनी लम्बी हैं. यह बात एक महीने पहले की हैं जब मैं थर्ड सेम में था. पेपर था दिवाली के कुछ रोज पहले और मुझे पढने में प्रॉब्लम आ रही थी. मेरी फेमली पूना में है क्यूंकि डेड का बिजनेश वही पर हैं. और मेरा कोलेज यहाँ सूरत में था इसलिए मैं अकेला ही रहता था. पढाई के लिए मैंने अपने दोस्त से सलाह की तो उसने मुझे कोचिंग के लिए कहा.


लेकिन कोचिंग वाले सर ने कहा की हम लोग तो बहुत सिलेबस पढ़ा चुके हैं और तुम्हे एडजस्ट करना पड़ेगा. मैंने कहा सर जितना पैसा हो ले लीजिए लेकिन मेरे लिए कुछ कीजिए. सर ने अपना सर खुजाया और बोले, वैसे एक मेडम हैं यहाँ पर नम्रता राजपूत जो अभी फ्री हैं. मैं उन्हें कह देता हु की आप के ट्यूशन लेने के लिए.
और सर आगे बोले, लेकिन यहाँ ट्यूशन के लिए क्लास नहीं होगा इसलिए हो सके तो मेडम को घर ही बुला लो प्लीज़.मैंने कहा ठीक हैं सर.तो सर ने मुझ से ५००० रूपये एडवांस लिया और मेरा एड्रेस और फोन नाम्बेरले लिया.उन्होंने मुझे कहा की मेडम अप को कॉल कर के टाइम एडजस्ट कर लेंगी. मैं और मेरे दोस्त ने वहां की फोर्मलिटी खत्म की और हम लोग घर निकल पड़े.करीब दो घंटे के बाद एक पतली आवाज वाली औरत का कॉल आया.मैंने कहा, हेल्लो.हेल्लो, आप ये कहानी रियल हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। मैं नम्रता बोल रही हूँ स्टार जीनियस क्लासिस से, आप ने ट्यूशन के लिए कहा था?जी मेडम, मेरा नाम अनिल हैं.ओके अनिल, आप का घर का पता यही हैं ना.इतना कह के उसने मेरा पता पढ़ा, मैंने कहा हा यही हैं.फिर मैंने कहा, मेडम मई अभी फ्री हूँ इसलिए कोई भी टाइम एडजस्ट कर लूँगा. आप को जैसा ठीक लगे.नम्रता मेडम ने हंस के कहा, मैं एक काम करती हूँ तुम्हारे घर आती हूँ आधे घंटे में. हम लोग सब डिस्कस कर लेंगे.मैं बोला, जी बहतर है मेडम.पौने घंटे के बाद घर की घंटी बजी. मैंने दरवाजा खोला तो सामने एक २३-२४ साल की औरत खड़ी थी. मैंने सोचा था की नम्रता मेडम ३५ साल के ऊपर की होगी लेकिन यह तो जवान पिस था यार. मैंने उसका ध्यान ना जाए ऐसे उसे ऊपर से निचे देखा. उसकी बड़ी गांड तो साली बड़ी ही मादक थी.मैं नम्रता, क्लासिस से.मेडम की आवाज सुन के मैं बोला, आइये मेडम वेलकम.वो अंदर आई और मैं भी डोर बंध कर के उसके पीछे निकला. बाप रे क्या सेक्सी बड़ी गांड थी मेडम की. उसके स्यूट को जैसे लड़ रही थी वो बड़ी गांड और कह रही थी मुझे आजाद करो! मन ही मन मैं सोच रहा था की इसने मरवा मरवा के बनाई होगी ऐसी बड़ी गांड.

मेडम सोफे पर बैठी और मैं सामने वाली साइड में बैठा.मैंने पूछा, मेडम कोई दिक्कत तो नहीं हुई घर ढूंढने में.
नहीं अनिल, तुम्हारे पेरेंट्स कहा हैं.जी मेडम, वो लोग तो पूना में रहते हैं. मैं यहाँ अकेला रहता हूँ मेडम.अरे मेडम मेडम रहने दो, ऐसे लगता हैं की मैं बूढी हो गई. मुझे नम्रता कहो तुम.फिर उसने कहा, इतने घर में अकेले बोर नहीं होते हो तुम अनिल!हां बोर तो होता हूँ पर क्या करूँ.फिर नम्रता और मैंने टाइमिंग और सिलेबस के बारे में बातें की.मेरी नजर बार बार उनके बूब्स पर जाती थी जो उनकी उनके टॉप के पीछे छिपे थे. जैसे मेडम की बड़ी गांड थी वैसे ही उनकी चुन्चिया भी बड़ी बड़ी थी.दुसरे दिन से नम्रता मेडम शाम को ६ बजे मेरे घर आने लगी. वो मुझे दो घंटा पढ़ाती थी और फिर हम लोग चाय लेते थे. वो हमेशा मेरी बनाई हुई चाय की तारीफ़ करती थी और मैं हंस देता था. दो दिन और बीते और उसका लगाव भी मेरी और बढ़ने लगा. वो मुझे देखती थी और मैं उसे. आप ये कहानी रियल हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। मन तो करता था की कह दूँ की मेडम चूत दो तो कुछ बात बने. मेडम को मैंने व्हाट्सएप्प में भी एड कर लिया था और उन्हें शायरी वगेरह भेजता था. और मैंने उन्हें अपने ग्रुप में भी एड कर दिया था. और मेरी किस्मत वही से चमकी.हमारे ग्रुप में पहले कभी ऐसा हुआ नहीं था लेकिन पता नहीं उस दिन योगेश के दिमाग में क्या आया. उसने एक सुपर हार्डकोर गेंगबेंग सेक्स की वीडियो ग्रुप में सब को सेंड कर दी. मेरे दोस्तों को मैंने नहीं बताया था की मैंने किसे एड किया हैं इसलिए वो बेचारे जानते भी नहीं थे की यहाँ सेक्स वाली चीजें नहीं डालनी हैं. मुझे लगा की मर गए आज तो.शाम को मेडम आई और जैसे ही मैंने दरवाजा खोला मैंने उसके चहरे पर अजीब सी मुस्कान देखी. वो चेयर पर बैठी और मैंने किताबें निकाली. मैं व्हाट्सएप्प की बात नहीं निकालना चाहता था.तभी मेडम गला साफ़ कर के बोली, तुम लोग ऐसे वीडियोज भी भेजते हो एक दुसरे को?मेरी गांड फट के हाथ में आ गई की कही नम्रता मेडम मुझे कह न दे की मुझे मेसेज मत भेजना.मैंने कहा, नहीं मेडम वो तो गलती से किसी दोस्त ने भेज दी ग्रुप में.नम्रता मेडम हंस पड़ी और मेरा डर कम हुआ.वैसे बड़ी भयानक थी वो वीडियो, मेडम बोली और मैं चौंका.

मैंने स्मार्ट बनते हुए कहा, कैसी भयानक मैंने तो देखि ही नहीं ऐसे ही डिलीट कर दी.सच में?हां, मैंने नहीं देखी.
ओके, रहने दो फिर…इतना कह के वो फिर से हंस पड़ी.आप के मोबाईल में हैं अभी?वो चौंक के मेरी और देखने लगी और फिर से हंस पड़ी.इसका मतलब आप ने डिलीट नहीं की! अब की मैं हंसा.मेडम ने अपनी पर्स से बड़ी स्क्रीन वाला फोन निकाला और वो वीडियो ओन की. मैंने वीडियो देख की मुठ मारी थी इसलिए मुझे पता है की वो वीडियो बड़ी ही हॉट थी जिसमे एक हॉट लड़की की बड़ी गांड को चार बड़े लंड से पेला गया था. मेरा ध्यान वीडियो में ही था की मेडम का हाथ मेरी जांघ से टच हुआ. आप ये कहानी रियल हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। मैंने कोई रिएक्शन नहीं दिया और मैंने देखा की वो हाथ को मेरी जांघ से मस्त सटा के ही बैठी रही. मैं वीडियो देखते देखते उनकी और देखा तो उनकी आँखों में सेक्स का कीड़ा था.और मैं उनकी और देख ही रहा था की उनका हाथ जांघ से उठ के मेरे लंड पर आ बैठा. उन्होंने मेरे लंड को जोर से दबाया और मेरे मुहं से आह निकल पड़ी.क्या हुआ इतने में ही घबरा गए?मेडम हमने भी बहुत दुनिया देखी हैं आप आजमालो.सच्ची अनिल, इतना कह के उन्होंने मेरी पेंट की ज़िप खोली और मेरे लंड को बहार निकाल के उसका मर्दन करने लगी. बड़ा ही सेक्सी समा था और मेरा लंड टाईट हो के ऊपर की और उठ गया था.मेडम लंड हिलाते हिलाते बोली, मैं बहुत बार देखा हैं की तू मुझे अजीब तरीके से देखता हैं ऐसा क्यूँ?नम्रता मेडम मुझे आप की बड़ी गांड मस्त लगती हैं.ही ही ही, सच में पसंद करता हैं मेरी गांड तू?हां मेडम इस बड़ी गांड को चोदने और चाटने की ख्वाहिश हैं कब से!तेरी ख्वाहिश आज पूरी कर देंगे बच्चू…..!मेडम अभी भी मेरा लंड हिला रही थी…..आगे क्या हुआ वो कहानी के अगले भाग में पढना ना भूले!कैसी लगी नम्रता मेडम की चुदाई , रिप्लाइ जररूर करना , अगर कोई टीचर की चूत की चुदाई करना चाहते हैं तो उसे अब जोड़ना Facebook.com/NamritaSharma

1 comments:

Indian sex story

Delicious Digg Facebook Favorites More Stumbleupon Twitter