Home » , , , » बड़े बूब्स और गांड वाली लड़की की चुदाई का मज़ा

बड़े बूब्स और गांड वाली लड़की की चुदाई का मज़ा

ये चुदाई कहानी मेरे घर के पास एक लड़की की चुदाई की हे. उसका नाम मीनू हे. और वो दिखने में बहोत ही सेक्सी और बड़े बूब्स और गांड हे और वो मेरी फ्रेंड हे और हम दोनों रोज़ बाते करते हे. और कभी कबार में उससे गलत जगह पर छू भी लेता था. जेसे की कमर पे बूब्स पर गांड पर वो कुछ नहीं बोलती थी. एक दिन में उसके घर गया और कोई भी नहीं था बहोत देर बाद घर में झाकने के बाद में वापस जाने लगा पर अचानक मुझे कुछ सुनाई दिया. तो में तेज़ तेज़ दौड़ कर उपर गया. और फिर चुपके से उसके रूम में देखने लगा. तो में देखता ही रह गया.


वह पर मीनू अपनी चूत में ऊँगली डाल कर लेटी थी और तेज़ तेज़ ऊँगली अन्दर बहार कर रही थी. में तो उसे चोदने की फ़िराक में तो था ही और ये सब देख कर मुज्मे हिम्मत आई. और मेने मोबाइल निकाल कर उसका पूरा विडिओ बनाया. और सब कुछ रिकॉर्ड किया और घर जाकर उस विडिओ को देख कर दो बार मुठ मारी.
अब में बेताब हो रहा था. की केसे उसे चोदु और उसकी प्यास बुजाऊ. तो कुछ दिन बाद हमारे एग्जाम चालू हो गए और अंकल आंटी ( मीनू के पेरेंट्स ) मेरे पास आये उन्होंने मुझेसे और मेरे पेरेंट्स से बात की में थोड़े दिन मीनू के साथ घर में रह जाऊ. क्यू की उसके पेरेंट्स किसी की डेथ में जा रहे थे. और हमारे एग्जाम हे तो मीनू नही जा पाएगी और और वो लोग १४ दिन में आ जायेंगे.में ये सब सुनके बड़ा खुस हुआ और चोदने की प्लानिंग बनाने लगा. और शाम को में और मम्मी उसके घर जा कर उससे मिले और रात को मीनू को घर पर बुला कर खाना खिला दिया और फिर में और मीनू उसकी घर की तरफ बढ़ गए. उसने मुझे आज बोला की सारी रात खूब बाते करेंगे.आप ये कहानी रियल हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। और मस्ती भी करेंगे तो मेने मजाक में उससे पूछा की कौन से मस्ती तो वो शर्मा कर मुझसे बोली चल बेसरम और हम लोग एसे ही बाते करके घर पहोब्च गए. में निचे सोया हुआ था और मीनू उपर थी. तो मुजको नींद तो आ नहीं रही थी. तो मेने सोचा चलो उपर जाकर मीनू को देखता हूँ. तो मीनू के रूम की लाईट चल रही थी. तो मेने हल्का सा डोर खोलके देखा तो मीनू पढ़ रही थी. तो में भी निचे से किताब लाया और उसके रूम में नौक करके घुस गया.और पूछा की तुम भी पढ़ रही हो…? तो वो बोली हां यार, अगले विक से एग्जाम हे अपने तो पढना तो पड़ेगा. तो मेने हां में हां मिलाई. और उसके पास जाकर बेठ गया. और में पढने में इतना होसियार तो था नहीं. बट मेथ्स और इंग्लिश ड्राइंग में अपने कोलेज में मास्टर हूँ. तो मीनू भी मेरी ही क्लास की हे. तो अब हम दोनों मेथ्स की सुम सोल्वे करने लगे. और बिच बिच में उसे हेल्प करने के टाइम अपनी कोनी से से उसके बूब्स को छू रहा था. और दबा रहा था. और वो सेदुयुस होना सुरु हो गयी थी.और मुझे एक बार गुस्से से देखा तो तो मेने बंद कर दिया करना और मुझे नींद आ रही हे ये बोलकर निचे चला गया. सुबह उठा तो मीनू ने मिजे काफी दी. और एसा बिहेव कर रही थी की जेसे मेने कल कुछ किया ना हो……. या कुछ हुआ ना हो…. तो में थोडा कन्फ्यूज था और इसे ही पूरा दिन निकल गया और रात को खाना खा के हम लोग घर पर आये. और में निचे रूम में गया और वो उपर चली गयी. और रात को में पानी पिने गया तो कुछ आवाज़े आ रही थी और मेने उपर जा कर देखा तो मीनू अपनी चूत में ऊँगली डालकर अन्दर बाहर कर रही थी.

में चुपके से अन्दर चला गया. मीनू आवाज़े निकाल रही थी आःह्ह्ह आअह्ह्ह्ह ऊऊउह्ह्ह ऊऊऊह्ह्ह्ह तो मेरा लंड खड़ा हो गया और और में वही खड़ा हो गया और मीनू की आँखे बंद थी और वो सिर्फ ब्रा पेंटी में हिउ बेठी हुई थी. और लेम्प की डिम लाईट जल रही थी. तो उसमे मीनू और भी हॉट लग रही थी. मेने अपने मोबाइल को निकाल के रखा और और अपनी त-शर्ट निकाल दी और अब में सिर्फ बनियान और शोर्ट में था और मीनू को देख कर कंट्रोल नहीं कर पाया. आप ये कहानी रियल हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। और मीनू को देख कर कंट्रोल नहीं कर पाया. और मीनू के पास जा कर अपनी शोर्ट उतार दीया. और अपना लंड उसके मुह के सामने रख दिया.पर फिर भी रुका रहा थोड़ी देर नाद मीनू और तेज़ मौन करने लग गयी और में समज गया की अब निकल ने वाला हे पर अचानक मीनू के मुह से मेरा नाम आते ही मेरा सारा माइंड डायवर्ट हो गया. आआह्ह्ह्ह राहुल ऊऊह्ह्ह्ह प्लीज् जोर जोर से छोड़ो मुझे आःह्ह्ह आःह्ह्ह मेरी चूत तड़प रही हे आःह्ह बना दो मुझे अपनी रंडी. आःह्ह्ह आःह्ह्ह और ये सब सुनके मेने अपने सारे कपडे उतार के फेंक दिए और अपने लंड को मीनू के पास ले कर उसके जस्ट मुह से टच कर दिया तो मीनू ने आँखे खोली और जुक गयी और चादर ओढने लग गयी. तो मेने उससे कम डाउन करा कर उसने मेरे लंड की और देखा जो की लेम्प की डिम लाइट में दिख रहा था.तो उसने फाटक से लाइट ओन कर दी और सन्न हो गयी क्यू की उसने आज तक कभी लंड नहीं देखा था. रियल में और उसे जोर जोर से हाथ में लेकर रगड़ ने लगी और में उसे किस करने लग गया. और १० मिनट किस करने के बाद मेने उसकी ब्रा और पेंटी खोली तो में देखता ही रह गया. उसका ३६-२८-३४ का फिगर था और में उसके बूब्स को सक करने लग गया और वो मेरे मुह को अपने बूब्स की और दबाने लग गयी और आःह्ह्ह आह्ह्ह्ह राहूल आःह्ह्ह खा जाओ इन्हें आह्ह्ह करने लगी तो में उसके निप्लास को काट रहा था.और दांतों से खिंच रहा था. ओर अपने हाथ से उसकी चूत को तेज़ रगड़ रहा था. और ये सब फिल करके मीनू की साँसे तेज़ हो गयी और बहोत जोर जोर से मौन करने लगी. उसके बाद में उसकी चूत के ऊपर से अपनी दो ऊँगली रगड़ ने लगा. और फिर वो आःह्ह्ह आआह्ह्ह्ह ऊऊह्ह्ह्ह ऊऊह्ह्ह्ह आआह्ह्ह्ह य्यीईस्स्स्स आःह्ह्ह करके झड गयी फिर वो मेरे लंड को अपने हाथ से रगड़ ने लगी और सहला रही थी और में नहोत अच्छा फिल कर रहा था. ओ उसके ये करते समय में उसके बूब्स को दबा रहा था. और उसे किस कर रहा था. फिर उसने मेरा लंड अपने मुह में ल लय.

और १५ मिनट तक चुस्ती रही. और मेने सारा पानी उसके मुह में छोड़ दिया. और उसने सारा पानी पि लिया. और हम दोनों बात रूम में गए और नाहा रहे थे और फिर हमने एक दुसरे को साफ़ किया और बाथरूम से आकर उसके भीगे हुए बूब्स तो ललचा रहे थे तो फिर में उसके पास आया और उसे पीछे से पकड़ लिया और उसके गले से सोल्डर तक किस करने लगा और वो ऊउह्ह्ह्ह ऊऊम्म्म्म ऊऊम्म्म्म कर रही थी. और मेरा लंड उसकी गांड को छू रहा था. आप ये कहानी रियल हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। फिर मेने उसको डौगी स्टाइल में किया और में लंड को गांड में डाल ने लगा. पहले तो वो मानी नहीं पर फिर मन कर उसकी गांड में अपना लंड डाल दिया.मेरा लंड घुस नहीं रहा था क्यू की वो वर्जिन थी तो उसे बहोत दर्द हो रहा था. तो में बात रूम से क्रीम ले आया और अपने लंड पर और उसकी गांड पर लगाने लगा और फी घुसाने लगा और थोडा सा घुसा और वो चीखने लगी.तो मेने उसे किस करना स्टार्ट कर दिया. और दम लगाकर लंड अन्दर डाल दिया. और जब पूरा घुस गया तो में उसे किस करने लगा और उसकी पीठ को शेलाने लगा और थोड़ी देर बाद वो अपनी गांड को हिलाने लगी. तो में समज गया की वो रदी हे तो अब में उसे तेज़ तेज़ चोदने लगा और वो आआअह्ह्ह्ह आआह्ह्ह्ह आःह्ह्ह आआह्ह्ह म्म्म्मम्ह्ह्हह म्म्म्मम्ह्ह्हह आःह्ह्ह आआह्ह्ह्ह ऊऊऊह्ह्ह म्म्म्माआअज़्ज़्ज़्ज़ा आआआआ आआआ म्म्मम्म्म्हह्ह ऊऊओह्ह्ह्ह oooohhhhh आआह्ह्ह य्य्यीस्स्स्स यस यस यस यस आःह्ह्ह फिफुक में फक में और फिर १५ मिनट तक गांड को चोदने के बाद मेने अपना लंड साफ़ किया क्यू की उसकी गांड फाट चुकी थी.और मेने उसकी गांड को भी साफ़ किया उसे बहोत दर्द हो रहा था और मज़ा भी आ रहा था तो फिर मेने उसे सीधा किया और गांड के निचे तकिया लगा दिया और चूत में लंड डाल दिया चूत गीली होने के कारन लंड घुस गया और उसे बहोत दर्द हुआ तो मेने उसे किस करके धक्के मारना सुरु कर दिया.और १० मिनट तक लगातार चोदने के बाद मेने किस करना छोड़ दिया और वो आह्ह्हह्ह ह्हहाह्ह्ह्ह अआः आआह्ह्ह आआह्ह्ह्ह ऊऊह्ह्ह ऊऊह्ह्ह्ह करने लग गयी और ५ मिनट बाद मेरा निकलने वाला था तो मेने पूछा कहा निकालू तो उसने बोला मेरे बूब्स पर तो मेने निकाल दिया और वो बहोत खुस हुई और हम दोनों किस करके नहाने चले गए और फिर रोज़ दिन रात को मेने उसे चोदा अलग अलग पोजीसन में,कैसी लगी पड़ोसन की लड़की की चुदाई  , रिप्लाइ जररूर करना , अगर कोई मेरी पड़ोसन की लड़की की चूत की चुदाई करना चाहते हैं तो उसे अब जोड़ना Facebook.com/MinuSharma

1 comments:

Indian sex story

Delicious Digg Facebook Favorites More Stumbleupon Twitter