गर्लफ्रेंड की पहली चुदाई

मेरी गर्लफ्रेंड का नाम दीपिका और उसके बारे में बता देता हूँ. उसका फिगर ३४-२८-३४ हे देखने में बहोत ब्यूटीफुल हे. वो और हम दोनों एक कामोन फ्रेंड के थ्रू मिले थे उसकी बर्थदडे पार्टी वह हमारी मुलाक़ात हुई थी. और धीरे धीरे हमारी फ्रेंडशिप बढ़ी. और हमने नम्बर एक्स्चंज करे और फिर हमारी फोन पे बात होने लगी. और हम जल्दी ही एक दम क्लोज फ्रेंड बन गए.एक दिन मेने उसको प्रपोज किया और और उसने हा बोल दिया. और फिर हमारी घंटो बाते होती थी और एक बार हम दोनों मूवी देखने गए और मूवी देखते टाइम में उसके हाथो को सहलाने लगा.

और उसके कंधो पे हाथ रख इ उसको प्रेस करा तो उसने मुझे देखा और एक प्यारी सी स्माइल दी. फिर में उसकी जिन्स पे हाथ ले गया और हाथ फेरने लगा तो वो बोलने लगी प्लीज् अनिल एसा मत करो मुझे कुछ हो रहा हे. तो मेने उसका मुह अपनी तरफ करके उसके लिप्स पे अपने लिप्स रख दिए. और फिर उसको किस करने लगा. और वो भी मेरा साथ देने लगी फिर मेरा हाथ खुद उसके बूब्स पे चला गया और वो उसके बूब्स को उसकी टी-शर्ट के उपर से दबाने लगा और वो गरम होने लगी थी. वो मुझे कास के किस करने लगी और मेरे बालो को नोचने लगी और  आप ये कहानी रियल हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। फिर मेने अपना हाथ उसके टी-सर्ट और ब्रा के अन्दर डाल के उसके बूब्स को फिल करा और दबाने लगा और उसके मुह से आवाजे निकलने लगी. आआआआह्ह्ह्हह्ह्ह्हह्ह अनिल धीरे से दबाओ ना दर्द हो रहा हे.फिर मेने उस्कक हाथ लेके अपनी जिन्स के उपर रख दिया और बोला मेरे लंड को सहलाओ और में उसकी जिन्स के उपर से उसकी चूत को सहलाने लगा. और उसकी पेंटी गीली हो गयी थी उसकी चूत के पानी से. फिर मेने उसकी पेंटी के अन्दर हाथ डाल के उसकी चूत को फिल करा उसकी चूत पे छोटे छोटे बाल थे. और बड़ा मज़ा आ रहा था उसकी चूत को सहलाने में और मेने अपना चेन खोलके अपना लंड उसके हाथ में दे दिया. और वो उसको मसलने लगी और और वो धीरे धीरे आआआह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् ह्हाआआआआअ की आवाज़े निकल रही थी.मूवी खतम होने वाली थी इस लिए हम दोनों को बिच में ही छोड़ना पड़ा और अपने कपडे ठीक किये. और हम बहार निकले और अब हमारी फोन पे सेक्स चाट होने लगी और मेने उसको सेक्स चाट में उसको अलग पोजीशन में चोदता और मुठ मार के शांत करता और वो फिगरिंग करके हम दोनों सेक्स करना चाहते थे पर हमे कोई जगह नही मिल रही थी. तो फीर एक दिन मेरे ममा पापा गाऊ किसी काम से जाने वाले थे तब तो मेरे मन लड्डू फूटने लगे. और मेने ये बात अपनी दीपिका को बताई. तो वो भी खुस हो गयी फाइनली हमारी एक दुसरे के साथ सेक्स करने की विश पूरी होने वाली हे.

अगले दिन मामा पापा फाइव दे के लिए गाऊ जाने वाले थे दोस्तों वो रात मनो खतम होने का नाम ही नही ले रही थी और फाइनली वो दिन भी आ गया. जब में मामा पापा को स्टेशन ड्राप करके अ गया और साथ ही आते वक्त अपनी गर्लफ्रेंड को साथ लेते आया और रास्ते में मेने एक कंडोम का पेकेट ले लिया. और घर के अन्दर घुसते ही हम दोनों एक दुसरे को किस करने लगे. और हम दोनों की जीभ आपस में फाईट करने लगी. और हमारा समुच १५ मिनट तक चला और इस बिच में उसके बूब्स दबाने लगा.फिर मेने उसको गोद में उठाया और मामा पापा के बेडरूम में ले गया. और बेड पे लेता दिया आप ये कहानी रियल हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है।  और फिर से हम एकदूसरे को किस करने लगे. में उसके उपर चदा हुआ था और फिर मेने उसकी टी-शर्ट निकाल दी और उसके बूब्स ब्रा के उपर से ही चूसने लगा. और दबाने लगा और उसकी ब्रा पूरी गीली हो गयी थी. वो बोल रही थी अनिल मुझे कुछ हो रहा हे. प्लीज् कुछ करोना तो में बोला हां जानू वही तो कर रहा हूँ.तो फिर मेने एक हाथ पीछे ले जाके उसकी ब्रा खोल दी. और ब्रा खुलते ही उसके उछलने लगे उसके बूब्स देखते ही मेरे होंश उड़ गए. और क्या बूब्स थे बिलकुल परफेक्ट ना ज्यादा बड़े ना ज्यादा छोटे उपर से पिंक कलर की निपल में तो उनपे फिर से टूट पड़ा एक बूब्स को दबाता तो एक बूब्स को चूसता और बिच बिच में उसके बूब्स को कटता टब उसके मुह से आआआआआआअ ह्ह्ह्हह्ह्ह्हह्ह ऊऊऊऊ ऊऊउ क्च्च्चक ह्ह्हह्ह्ह्ह अनिल धीरे से काटो ना आआअह्ह्ह आआअह्ह्ह्ह ह्ह्ह्हम्म्म ह्ह्हह्म्मम्म्म्म बहोत मज़ा आ रहा हे और काटो पि जाओ इनका दूध खली करदो इनको. ये सुनके में भी जोश में आके बोलता साली आज तो इसको निचोड़ दूंगा एक बूंद भी नही छोडूंगा इसमें.फिर मेने गर्लफ्रेंड  की जिन्स उतार दी वो मेरे सामने सिर्फ पेंटी में लेटी हुई थी मेने भी अपने कपडे उतारके सिर्फ अंडरवियर में आ गया. और मेरे दिमाग में एक मस्ती सूजी और में जल्दी से फ्रिज में से बर्फ लेके आया और उसके बूब्स पे धीरे धीरे लगाने लगा और उसकी सिसकिय निकलने लगी. और में फिर बर्फ उसकी कमर में लगाने लगा उसकी कमर माय गोड क्या अवेसोमे थी.आज भी वो दिन याद करता हूँ तो मेरा लंड खड़ा हो जाता हे. और उसके मुह से आआअह्ह आआह्ह्ह्ह आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आआआह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् जान प्लीज् एसे मत करो में मर जाउंगी. में उसकी नाभि पे बर्फ लगा के उसे किस कर रहा था और उसे अपनी जीभ से लिक कर रहा था. वो अपने हाथ मेरे बालो में घुमा रही थी. फिर मेने धीरे से उसकी पेंटी में हाथ डाल के उसकी चूत को सहलाने लगा और उसकी चूत बहोत गीली हो चुकी थी तो मेने उसकी चूत में एक ऊँगली डाली उसके मुह से आवाज़ निकली आआह्ह्ह अनिल दर्द हो रहा हे.

फिर मेने उसकी फेंटी निकाल के फेंक दी और फिर में खड़ा हो के उसकी चूत को देखने लगा. और वो मेरे सामने बिलकुल नंगी पड़ी थी और में रियल में पहली बार किसी लड़की को नंगी देख रहा था. और उसके जिस्म पर पड़ती सूरज की किरनी से उसका जिस्म और बभी कयामत लग रहा था और मुझसे उसकी चूत को देख के रहा नही गया और मेने उसकी टाँगे फेलाई और अपनी जीभ से उसकी चूत को चाटने लगा ह्ह्ह्हह्हम्मम्मम्म.
एक अजीब सी खुसबू आ रही थी उसकी चूत में जो मुझे पागल कर रही थी और फिर में उसकी चूत में एक ऊँगली डाली और अन्दर बहार करने लगा और उसकी चूत को जोर जोर से चटने लगा. और फिर उसकी आवाज और तेज हो गयी आआआआआआआआ ह्ह्ह्हह्ह्ह्हह्ह आआआह्ह्ह्हह्हह्ह्ह येस और करो अनिल अह अह आहा हा हा आहा आहा हा !  आप ये कहानी रियल हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। आई लव यू अनिल प्लीज् फक मी पि जाओ मेरा सारा पानी. अनिल और चाटो मेरी चूत को पि जाओ मेरा सारा पानी बहोत दिनों से तदपा रही हे ये. में फिर अपना अंडरवियर निकाल के बोला जान मेरे लंड को भी प्यार करो तो वो मेरे लंड को देख के बोलने लगी कितना मस्त लंड हे तुम्हारा और इसको मसलने लगी और में उसको बोला इसको चुसो तो पहले मन करने लगी लेकिन मेरे जोर देने पर मुह में लेके चूसने लगी और फिर हम दोनों ६९ पोजीशन में आ गये और में उसकी चूत को चाट रहा था.और थोड़ी देर बाद वो झड गयी और ढीली पद गयी और मेने उसका सारा पानी पि लिया और मेरा भी निकलने वाला था तो में उसके मुह को जोर जोर से चोदने लगा और उसके मुह में ही झड गया.और उसने मुह से थूक दिया और थोडा पि लिया फिर उसने मेरा लंड चाट के साफ़ कर दिया और तभी डोर बेल बजी और हम दोनों डर गए और मेने उसे जल्दी से बाथरूम भेजा और देखने गया की कोन हे और फिर में जाके फ्रिज में से कुछ आइसक्रीम खाने के लिए लेके आया और मेने वो आइसक्रीम उसके बूब्स पे लगा दी और उसकी चूत पे लगा दी और उसे चाटने लगा और दीपिका फिर से गरम होने लगी और मेने अपने लंड पे भी आइसक्रीम लगा दी वो उसको चूसने लगी और मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया तो फिर में उसके सामने आ गया और बोला जान स्टार्टिंग में थोडा दर्द होगा सेहन कर लेना तो वो बोली जानू तुम्हारे लिए तो कुछ भी कर सकती हूँ में.

अब और मत रुको जल्दी से डाल दो इसको अन्दर अब रुका नही जाता और उसकी टाँगे फेला के मेरा लंड उसकी चूत के छेद पे रख दिया और अन्दर घुसाने लगा और दीपिका के चेहरे पे दर्द साफ़ दिख रहा था पर वो कंट्रोल कर रही थी और फिर में उसके हाथ पकड़ के उसे किस करने लगा.और फिर जोर का शोर्ट मारा मेरा आधा लंड उसकी चूत फाड़ते हुए अन्दर चला गया.और वो चतपताने लगी थी और अपने पैर पटक रही थी पर मेने उसको कस के पकड़ रख्खा था और मेरे लंड में भी जलन हो रही थी.शायद स्किन हट गयी थी. दीपिका की आंखो से आंसू बह रहे थे और में उन आंसू को पि गया और उसके हेड पे किस करा और उसके बूब्स को चूसने लगा जब वो थोड़ी नार्मल हुई तो में आगे पीछे करके धीरे धीरे उसे चोदने लगा अब उसके मुह से आवाज़ निकलने लगी आआह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् अह अह अह अह हह़ा जान दर्द हो रहा हे थोडा आराम से करो तो में बोला थोड़ी देर में तुमको मज़ा आने लगेगा और फिर मेने एक जोर का जटका मारा और मेरा लंड इस बार पूरा इसकी चूत में चला गया.और इस बार उसके मुह से जोर की चीख निकली और में उसका मुह बंद करना भूल गया और मुझे लगा कही पड़ोसियों ने ना सुन लिया हो तो फिर थोड़ी देर बड जब उसका दर्द कम हुआ तो वो अपनी कमर हिलाने लगी और में समज गया और में धक्के लगाने लगा. आप ये कहानी रियल हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। थोड़ी देर बाद उसको भी मज़ा आने लगा और वो जोर जोर से कहने लगी और तेज करो जान बहोत मज़ा आ रहा हे उसकी ये बात सुनके में और जोर जोर से धक्के लगाने लगा और उसको किस करते हुए उसको चोदता रहा और फिर मेने उसकी टाँगे अपने कंधो पे रख के उसकी चुदाई करता रहा और वो बोलती जा रही थी फक मी हार्डर अनिल प्लीज् फक मी फ़ास्ट आई लव यू जानू आआअह्ह्ह्हह्ह्ह्ह आआआआआह्ह्ह्हह्हह्ह्ह आआआआआआआआआअ ह्ह्हह्ह्ह्ह पुरे कमरे में हमरी चोदाई की आवाज़ सुनाई दे रही थी फच फच पच पच पच पच फ्प्च पच पच फच तभी वो झड के ढीली पद गयी लेकिन में उसे अभी भी धक्के लगता रहा और उसके बूब्स को चूसने लगा और १५ मिनट की चुदाई के बाद में उसके ही अंदर झड़ गया और उसके उपर लेट गया और जब हम दोनों हटे तो देखा बेड पे उसकी चूत में निकला हुआ खून लगा हुआ था तो वो थोड़ी डर गयी थी पर मेने उसको समजा दिया पहली बार में एसा होता हे.कैसी लगी गर्लफ्रेंड की चुदाई स्टोरी , रिप्लाइ जररूर करना , अगर कोई मेरी गर्लफ्रेंड की चुदाई करना चाहते हैं तो उसे अब जोड़ना Facebook.com/DipikaSharma

1 comments:

Indian sex story

Delicious Digg Facebook Favorites More Stumbleupon Twitter