loading...
loading...

बहन की चूत और गांड मारी बाथरूम में

यह चुदाई कहानी मेरी और मेरी बहन अस्मा की हैं. अस्मा 18 साल की हैं और वो कोलेज में पढाई करती हैं. मैं एक मोबाइल की शॉप चलाता हूँ और मेरी मंगनी अभी नहीं हुई हैं. अस्मा बहुत खुबसूरत हैं लेकिन उस दिन से पहले मेरे दिमाग में कभी भी उसके लिए कोई गलत ख्याल नहीं आया था. अस्मा की गांड बहुत ही बड़ी हैं और उसके चुंचे भी काफी हेल्धी हैं. वैसे बहन की गांड को देख के मेरा मन उस दिन से पहले कभी शैतान नहीं हुआ था. लेकिन मुझे उकसाने में अस्मा का ही बड़ा हाथ था.बहन की गांड सेक्सी हैं

29 जनवरी की रात थी. मैं ठेके से शराब से गला भिगो के आया था. ऊपर मैंने तम्बाकू से मुहं भर लिया था ताकि मेरी माँ दरवाजा खोले तो उसे शराब की बू ना आये. दस्तक देने पर कुछ देर के बाद दरवाजा खुला. मेरी माँ की जगह अस्मा ने दरवाजा खोला था.“अम्मी कहा हैं अस्मा?”“अम्मी, अब्बू पड़ोस के राहिल चाचा के साथ कही बहार गए हैं. कह के गए हैं की रात को 12 बजे के करीब लौटेंगे. अम्मी भिन्डी बना के गई हैं, निकाल दूँ आप के लिए?”“हां जल्दी निकालो, बहुत भूख लगी हैं.”आप ये कहानी रियल हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। मैं बाथरूम की और गया और मुहं हाथ धोने लगा. तभी मेरी नज़र खूंटी पे टंगी हुई बहन की पेंटी पर पड़ी. मैं मूड के पीछे देखा अस्मा किचन में थी क्यूंकि बर्तन का आवाज आ रहा था. अस्मा की पेंटी निचे उतार के मैंने उसे सुंघा, उसमे से उसकी चूत की खुसबू आ रही थी. पता नहीं क्यूँ मैं आज अपने आप को रोक नहीं पाया. मैंने दरवाजे को कड़ी लगाईं और अस्मा की पेंटी के बिच में अपने लंड को रख दिया. फिर मैं आँखे बंध कर के मुठ मारने लगा. बहन की गांड और चूत मेरे सामने आ रही थी. साथ में बोलीवुड की हिरोइन भी याद आ रही थी. इन सब के बिच में मैं लंड से पिचकारी छोड़ी और बाथरूम के फर्श पर ही वीर्य बहा दिया. अपने किये पर पानी फेर के मैं बहार आया. अस्मा ने टेबल पर खाना लगा दिया था और वो अपने कमरे की और चली गई थी. ना चाहते हुए भी मेरी नजर बहन की गांड पर चली गई. वो कुल्हे मटका मटका के ऐसे चल रही थी जैसे की वो कोई पोर्नस्टार हो. अस्मा के कमरे का दरवाजा धम से बंध हुआ और मैं भिन्डी की सब्जी को रोटी के साथ चबाने लगा.

अस्मा को चूत में ऊँगली करते देखा खाना खा के मैंने बर्तन प्लेटफोर्म पर रख दिए और फिर चुपके से छत पर चला गया. मैं रोज खाने के बाद सिगरेट पिने ऊपर आता था. सिगरेट पिने के बाद मैं अक्सर छत पर ही सीओ जाता था. कभी कभी मैं निचे जा के टेलीविजन देखता था, लेकिन वो कभी कभी ही होता था. सिगरेट पिने के बाद मैं निचे की और बढ़ा. फ्रिज से ठंडा पानी पिने के बाद मैं छत पर जाने की सोच रहा था तभी मेरी नजर अस्मा के कमरे पर पड़ी. अस्मा का कमरा अंदर से बंध था और की-होल देख के मेरा शैतान मन अपनेआप को रोक नहीं पाया. मैं जैसे ही निचे झुक के अंदर देखने लगा मेरे पाँव के निचे से जमीन खिसक गई. अस्मा के कान में हेडफोन लगे थे और उसने अपनी इजार उतार दी थी. उसके हाथ उसकी चूत पर थे, वो नंगी थी और चूत को अपनी उँगलियों से सहला रही थी. वो चूत के दाने को ऊँगली से दबा के मजे ले रही थी. उसे इस अवस्था में देख के मेरा लंड भी एकदम से खड़ा हो गया. अस्मा की बालवाली चूत बड़ी ही सेक्सी लग रही थी. मेरा हाथ भी लंड पर आ गया और मैं उसे हिलाने लगा. अस्मा सिसकियाँ ले रही थी. उसने शायद अपने मोबाइल में पोर्न क्लिप लगाईं थी जिसे देख के वो हस्तमैथुन कर रही थी.आप ये कहानी रियल हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। मैंने भी अपने लंड को बहार निकाल दिया. मेरा लंड एकदम टाईट हो गया था, हालांकि मैंने कुछ देर पहले ही मुठ का पानी निकाला था. अस्मा की चूत देखने पर मुझे इतनी उत्तेजना हुई थी की जिसकी कोई हद नहीं थी. उधर अस्मा ने अब एक ऊँगली अपनी चूत में डाल दी थी और वो आह आह कर के मस्तिया रही थी. उसकी ऊँगली चूत के दाने के साथ खेल रही थी और वो ऊँगली को बहार निकाल के चाट भी रही थी. मेरी बहन इतनी सेक्सी थी वो मुझे जरा भी पता नहीं था. मेरा हाथ मेरे लंड पर चलने लगा था और मैं उसे अब जोर जोर से हिलाने लगा था.

बहन ने तभी एक ऊँगली अपनी बड़ी गांड के छेद पर रख दी. यह वही ऊँगली थी जो कुछ देर पहले चूत में जाके आई थी. अस्मा ने अब उस ऊँगली को अपनी गांड में डाल दी. बहन की गांड का हस्तमैथुन देख के मेरा लौड़ा अब आपे से बहार हो रहा था. मेरे लंड की एक और पिचकारी लगी और सारा वीर्य दरवाजे के ऊपर ही चिपक गया. मैंने फट से लंड को पेंट में डाला और किचन से एक कपडा ला के हलके हाथ से दरवाजा साफ़ कर दिया. फिर मैंने अपने मोबाइल का कमरा की-होल पर रखा. अब मैं अस्मा के हस्तमैथुन की वीडियो निकाल रहा था. बहन की गांड में ऊँगली थी और इधर मैं उसका भाई उसका वीडियो बना रहा था.आप ये कहानी रियल हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। मेरा मन उस रात बहन की गांड और चूत चोदने के लिए बहुत हो रहा था. और यह वीडियो मैं अस्मा को फंसाने के लिए ही बना रहा था.तभी अस्मा के बदन में एक झटका लगा और वो चूत और गांड में एक साथ ऊँगली डाल के हिलाने लगी. दूसरी ही मिनिट उसने अपनी उंगलिया अपने फ्रॉक से साफ़ की और खड़ी हो के कपडे पहनने लगी. अस्मा का हस्तमैथुन हो चूका था….! और मेरे पास एक सबूत था जो मुझे बहन की गांड और चूत दिलवा सकता था…! आप को मै वो भी लिखूंगा की कैसे मैंने अस्मा को यह वीडियो दिखा के उसकी चूत और गांड मारी थी .कैसी लगी बहन की सेक्स स्टोरी , शेयर करना , अगर कोई मेरी बहन की चूत की चुदाई करना चाहते हैं तो उसे अब जोड़ना Facebook.com/AshmaKumari

1 comments:

loading...
loading...

Indian sex story,indian xxx story,hindi porn story,hindi xxx kahani,hindi adult story,

Delicious Digg Facebook Favorites More Stumbleupon Twitter