सेक्स की देवी मम्मी की रसीली चूत

आज की सेक्स कहानी मेरी मम्मी की चुदाई की हैं । आज मैं बाटूंगा कैसे मम्मी को चोदा ,मम्मी को नंगा करके मम्मी की चूत चाटी, मम्मी ने मेरा लण्ड चूसा,मम्मी ने मुझसे चुदवाया , मम्मी की चूत मारी,  मम्मी की गांड मारी , मम्मी की चूत को ठोका ।मेरी मम्मी की उम्र करीब 42 साल की है और वो फिर भी बहुत सेक्सी और हॉट है। वैसे आप लोग तो जानते ही हैं आर्मी ऑफिसर्स की वाईफ कैसी दिखती हैं और कितनी बनठन कर रहती हैं। मेरी मम्मी का फिगर 39-31-42 है और वो लंबी हैं जो कि उनके जैसे बॉम्ब को बहुत सूट करता है। वो बहुत गोरी हैं और मोटी नहीं है।दोस्तों में सेक्स के बारे में समझने लगी थी। मेरे पापा आर्मी ऑफिसर हैं और ज्यादातर टाईम व्यस्त ही रहते हैं और मम्मी घर पर बोर होती थी तो उन्होंने एक दिन पापा को कहा कि क्यों ना वो आर्मी स्कूल के बच्चो को पढ़ाने लगे? तो पापा ने भी कहा कि ठीक है..
अगर वो चाहती है तो ठीक है.. लेकिन मुझे यह अच्छा नहीं लगा.. क्योंकि कौन सी स्टूडेंट चाहेगी कि उसकी मम्मी उसकी क्लास या स्कूल में पढ़ाए? लेकिन मम्मी से बात करने के बाद वो कहने लगी कि तुम बिल्कुल भी चिंता मत करो में प्राइमरी के छोटे बच्चो को पढ़ाउंगी।फिर में भी बहुत खुश हो गयी क्योंकि प्राइमरी बच्चो का बिल्डिंग अलग था और मम्मी को वहाँ पर जॉब लेने में कोई भी दिक्कत नहीं हुई.. लेकिन अगले सोमवार से वो हमारी क्लास टीचर बन गयी थी और हमे पढ़ाती थी.. लेकिन मुझे बहुत दुःख हुआ उनके ऐसा करने से क्योंकि अब में अपने साथ बैठने वाले लड़के का लंड कैसे हिलती और चूसती.. क्योंकि मम्मी मुझे लड़के के साथ देखकर मुझसे नाराज हुआ करती.. अभी मुझे लंड चूसने का चस्का नया नया ही लगा था और में यह बहुत मजे से कर रही थी।फिर एक दिन मैंने अपने उस बॉयफ्रेंड को बताया कि में उसके साथ नहीं बैठ सकती। तो वो मुझसे बिना कुछ कहे दूर हो गया और दूसरी लड़कियों पर ट्राई मारने लगा.. लेकिन सभी ने छी गंदा कहकर उसे मना कर दिया और उनमे से एक ने मम्मी से शिकायत कर दी.. लेकिन मम्मी ने कुछ नहीं किया तो में बहुत चकित रह गई। वो लड़का जिसका नाम रोहन था.. वो अब क्लास में ही मुठ मारा करता था और जब मैंने उससे पूछा तो उसने कहा कि में तेरी मम्मी को देखकर क्लास में मूठ मारता हूँ।आप ये चुदाई रियल हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। फिर एक दिन मम्मी ने उसे इस हालत में देख लिया जब उसका वीर्य निकलने ही वाला था। तो मम्मी ने हम सभी से कहा कि अच्छा तुम सब यह सवाल हल करो और इसी बीच जब सभी बच्चे सवाल हल कर रहे थे.. तो वो रोहन के पास गयी और उन्होंने रोहन को जल्दी से अपना लंड अंडरवियर में डालते हुए देख लिया और उसे अपने ऑफिस में बुलाया। फिर में साईन्स की क्लास के टाईम पर बहुत डर गयी कि कहीं यह मम्मी को मेरे बारे में तो नहीं बता देगा और इसलिए बचने के लिए में जब साइन्स की क्लास थी तब में क्लास से निकल कर मम्मी के ऑफिस के पीछे पहुंची जो कि थोड़ा सुनसान एरिया था और ऑफिस के पीछे बहुत छोटी छोटी खिड़कियाँ थी।फिर में मम्मी के ऑफिस वाली खिड़की से अंदर देखने लगी और उस साईड कोई नहीं आता था क्योंकि वहाँ पर बहुत सी काँटे वाली झाड़ियां थी और में बहुत डर रही थी कि पता नहीं क्या होगा? लेकिन मम्मी ने रोहन को कहा कि छोटे शैतान यहाँ पर आओ और यह बताओ क्या कर रहे थे? तो रोहन डर के मारे बोल नहीं पा रहा था। मम्मी ने उसे समझाया कि यह सब कुछ सामान्य है और अब तुम बड़े हो रहे हो.. लेकिन तुम क्या सोचकर क्लास में मुठ मार रहे थे? क्लास में यह सब करना तो बिल्कुल ग़लत है। रोहन मम्मी के मुहं से यह सुनकर थोड़ा मस्त हो गया और उसने कहा कि मेडम आपको देखकर ही मार रहा था.. सॉरी मेडम आगे से नहीं करूँगा। तो मम्मी ने कहा कि रोहन मुझे तुम्हारे माता-पिता को बताना पड़ेगा कि तुम स्कूल में क्या पढ़ रहे हो? तो रोहन डर के मारे सॉरी कहने लगा।

फिर मम्मी उठकर दरवाजे के पास गयी और उन्होंने दरवाजा अंदर से लॉक कर दिया और रोहन को रोता देख मम्मी हंसने लगी और कहने लगी कि अच्छा तो फिर मुझे अपनी लुल्ली दिखा.. अगर चाहते हो कि तुम्हारे माता पिता को में कुछ भी ना बताऊँ। तो रोहन पहले तो शरमाया.. लेकिन फिर उसने कहा कि मेडम लुल्ली नहीं यह लंड है। फिर मम्मी ने कहा कि वो तो देखते है अभी क्या है? और मम्मी ने उसकी बेल्ट पकड़ कर उसको अपनी ओर खींचा और उसकी पेंट उतारी और मम्मी कहने लगी कि सज़ा तो तुम्हे मिलेगी रोहन। फिर मम्मी ने कहा कि रोहन अब तुम्हे में दिखाती हूँ मज़ा क्या होता है? और मम्मी ने रोहन का लंड देखा जो कि बहुत ज़्यादा कड़क हो गया था और बहुत मोटा था। भले ही वो ज्यादा लंबा ना हो.. मम्मी ने उसके लंड को एक उंगली से पूरा सहलाया और फिर लंड पर पकड़ बनाकर जोर से पकड़ लिया।फिर एक हाथ से रोहन की छोटी सी गांड पकड़ कर दबाने लगी और दूसरे हाथ से उसका लंड जो कि छोटा था और वो लंड हिलाने लगी। रोहन आअहह उह्ह्ह कर रहा था और फिर मम्मी ने उसका लंड जीभ से चाटा फिर अपनी जीभ से रोहन के सुपाड़े को धीरे धीरे से सहलाने लगी। रोहन ने अपने चूतड़ टाईट कर लिए और मम्मी के मुहं की तरफ लंड से झटका मारा.. मम्मी के होंठ पर लंड ने दवाब दिया। तो मम्मी ने कहा कि बड़े बैताब हो रहे हो रोहन.. तुम्हारी यही तो सज़ा है कि में तुम्हे बहुत तड़पाऊँ। मम्मी ने फिर अपने मुहं में उसका लंड भर लिया और चूसने लगी.. मम्मी कभी कभी उसका लंड दाँत से काट रही थी जिससे वो ओउउच अया अह्ह्ह कर रहा था और मम्मी रोहन की गांड पर नाख़ून से खरोंच रही थी।आप ये चुदाई रियल हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। यह सिलसिला करीब 10 मिनट तक चला और रोहन अब पूरे जोश में आ गया और मम्मी के बाल पकड़ कर उनके मुहं में जोर जोर से पूरे जोश के साथ धक्के मारने लगा और मम्मी के मुहं को रोहन अब सज़ा दे रहा था। मम्मी के बाल जो कि चोटी में थे.. अब खुल गये और रोहन ने मम्मी के बाल घोड़े की पूंछ की तरह पकड़ लिए और उसने मम्मी के प्यारे से चहरे को बहुत चोदा और फिर कुछ ही मिनट में रोहन ने अपना गाढ़ा वीर्य मम्मी के मुहं में ही छोड़ दिया और फिर मम्मी ने अपने होंठ से बहते हुए वीर्य को होंठ से साफ करके चाट लिया और रोहन को पूछा कि क्यों मज़ा आया? तो रोहन ने कहा कि बहुत मज़ा आया मेडम आप दुनिया की बेस्ट टीचर हो.. मुझे प्लीज़ हमेशा ऐसी ही सज़ा देती रहना और फिर रोहन ने मम्मी की गर्दन पर किस किया और वापस क्लास जाने लगा और जाने से पहले मम्मी ने उसे कहा कि छुट्टी के बाद मेरे ऑफिस में आना और सज़ा चाहिए तो और उसकी गांड पर थप्पड़ मारते हुए उसे जाने को कहा ।अगर कोई मेरी मम्मी के साथ सेक्स करना चाहते हैं तो उसे अब जोड़ना Facebook.com/UshaSharma


1 comments:

Indian sex story

Delicious Digg Facebook Favorites More Stumbleupon Twitter