Hindi xxx sex story चुदाई की सेक्स कहानी

Read हिंदी सेक्स स्टोरी, चुदाई की कहानी, Real hindi sex stories, hindi sex story, hindi xxx story, hindi adult story, hindi sex kahani, hindi fuck story, sister brother, mom son sex story hindi, brother sister xxx hindi story, hot hindi sex stories, new sex story, student & teacher sex story with indian hot sex photo

अकेली फ्लेट में सेक्सी कॉलेज टीचर की रोज चुदाई

स्टूडेंट और टीचर की सेक्स कहानियों, Sexy teacher ki chudai xxx mast kahani, सेक्स कहानी, टीचर की प्यास बुझाई xxx chudai kahani, पूरा नंगा करके क्सक्सक्स स्टाइल में टीचर को चोदा xx real kahani, टीचर की चुदाई hindi sex story, टीचर के साथ चुदाई की कहानी, teacher ki chudai story, टीचर के साथ सेक्स की कहानी, madam ko choda xxx hindi story,

मेरी मेम हिमांगी की उम्र कुछ 25 साल है. वो दिखने में थोड़ी सांवली है, लेकिन फिगर 36-26-34 है. वो एकदम हॉट और सेक्सी लगती है और चलते वक़्त गांड तो ऐसे मटकती है कि उसको देखकर मेरा लंड तुरंत खड़ा हो जाता है.ये बात उन दिनों की है जब में इंजीनियरिंग  ईयर में था और रिज़ल्ट आया था तो में रिजल्ट लेने गया था. मैंने देखा कि में 4 विषय में फैल था, उसमें से मुझे 2 विषय हेमा मेम पढ़ाती थी. मुझे मेरा साल ख़राब होते नजर आ रहा था, तो में हेमा मेम के पास गया.
मेम लेब में बैठी थी और कुछ पढ़ रही थी तो में अंदर गया और मेम के पास जाकर उनके सामने खड़ा हुआ तो मुझे टीचार की बूब्स के दर्शन हो गये और मेरा लंड एकदम से खड़ा हो गया. फिर मेम ने ऊपर देखा और उन्होने मुझसे पूछा कि क्या हुआ? तो मैंने उन्हें पूरी बात बताई तो बताते वक़्त वो मेरे लंड को देख रही थी और में उनके बूब्स को देख रहा था. फिर मेम बोली कि तू टेन्शन मत ले, में तुझे पढ़ाउंगी. फिर दूसरे दिन से में रोज कॉलेज में मेम की लेब में जाकर सीखने लगा, तब मुझे पता चला कि मेम की शादी तय हुई है और सगाई भी हुई है. फिर कॉलेज में पढ़ते वक़्त में बहुत डिस्टर्ब होने लगा तो मेम बोली कि तू मेरे घर आ जाया कर, वैसे भी उनके घर वो सिर्फ़ अकेली रहती थी, उनकी फेमिली दूसरे शहर में रहती थी, तो में बोला कि ठीक है. फिर मेम बोली कि तू सिर्फ़ अकेला आना और अपने दोस्तों को कभी नहीं लाना और किसी को बताना भी नहीं कि तू मेरे पास आता है. तो में बोला ठीक है और मुझे भी यही चाहिए था तो में खुश हो गया.फिर दूसरे दिन से में उनके घर जाने लगा, दोस्तों ये कहानी आप रियल हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है।मेरी पढ़ाई अच्छी चल रही थी. एक दिन में सुबह गया तो मेम नहा रही थी, मैंने बेल बजाई तो अंदर से आवाज़ आई कि 5 मिनट रूको आती हूँ. में बाहर खड़ा था, इतने में दरवाजा खुला और मैंने सामने देखा तो में हैरान हो गया, मेम सिर्फ़ टावल लपेटे हुए आई थी, तो झट से मेरा लंड तन गया और मेम ने वो देखा और स्माईल करके बोली पागल कहीं का,

अन्दर आओ. मुझे समझ में आ गया कि मेम को पटाना अब मुश्किल नहीं है. में बाहर बैठा था और मेम जल्दी से चेंज करके आई. फिर हम पढ़ाई करने लगे, रोज रोज ऐसे ही चल रहा था कि मेरे पापा का गावं में ट्रान्सफर हो गया तो वो मेरी माँ को और बहन को लेकर गावं जाने वाले थे, तो मैंने पापा से कहा कि में कॉलेज के पास ही रूम ले लेता हूँ. फिर में रूम ढूंढ रहा था तो उस दिन में क्लास में नहीं गया.फिर मुझे मेम का फोन आया तो मैंने उन्हें सारी बात बताई तो वो बोली अरे पागल मेरा फ्लेट है ना, इतना बड़ा है और वैसे भी में अकेली ही रहती हूँ और बोर होती हूँ, तो तू मेरे साथ रूम शेयर करना. में ये सारी बाते सुनकर इतना खुश हुआ कि दोस्तों में बता नहीं सकता, दोस्तों ये कहानी आप रियल हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है।क्योंकि मेरा सपना सच होने जा रहा था. फिर में उसी दिन मेम के फ्लैट में शिफ्ट हो गया. फिर मेम ने कहा कि बिल्कुल आराम से अपना ही घर समझकर रहना. फिर तो क्या मुझे लॉटरी लग गयी थी पहली ही रात को हम डिनर करके सोने चले गए. मेम के बेडरूम में डबल बेड था तो उसमें हम दोनों सो गये. फिर रात को 2 बजे मेरी नींद खुली तो मैंने मेम की तरफ देखा, वो एकदम गहरी नींद में थी, उन्होंने हाफ पेंट और स्लीव टॉप पहना था और उनकी पेंट ढीली होगी तो वो नीचे आ गयी थी और मुझे उनकी गांड की बीच की लकीर दिखने लगी थी.

मैंने अपना लंड बाहर निकाला और मूठ मारने लगा, उतने में मेम ने करवट बदल ली तो मैंने झट से लंड अंदर डाला और सोने का नाटक करने लगा और वैसे ही सो गया. जब में सुबह उठा तो मेम नहाने गयी हुई थी और में उन्हें नंगा देखना चाहता था तो में बाथरूम की तरफ चला गया. फिर मैंने बाथरूम के होल से अंदर देखा तो मेम पूरी नंगी थी और शॉवर का पानी उनके ऊपर गिर रहा था और वो अपने बूब्स सहला रही थी. फिर मेंने उधर ही मुठ मारना शुरू कर दिया. फिर मेम बाहर आई तो में जल्दी से वहाँ से निकल गया. फिर ऐसे ही रोज चलने लगा, हम दोनों बहुत अच्छे दोस्त बन गये थे. वो उनकी हर बात मुझसे शेयर करने लगी थी और में भी हर बात शेयर करने लगा था. हम हमेशा साथ घूमने और शॉपिंग करने जाने लगे और जब बाहर घूमने जाते तो बाहर हाथ पकड़कर चलते थे. मेम मेरे साथ बॉयफ्रेंड गर्लफ्रेंड जैसे ही रहती थी. ऐसे ही हम एक दिन घूमने निकले तो मेम ने मेरे हाथ को पकड़ा था और मेरा हाथ उनके बूब्स को टच कर रहा था. मुझे बहुत अच्छा लग रहा था. दोस्तों ये कहानी आप रियल हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है।फिर हम लोग मूवी देखने गये तो वो लव स्टोरी वाली मूवी थी, फिर मूवी ख़त्म होने के बाद हम रेस्टोरेंट में बैठे तो वहाँ मेम ने मुझसे पूछा कि तुम्हारे कोई गर्लफ्रेंड नहीं है क्या? तुम इतने सुंदर स्मार्ट हो तो तुम्हारे कोई गर्लफ्रेंड तो होगी ना. फिर में बोला कि नहीं मुझे अभी तक मेरी पसंद की मिली ही नहीं है.

फिर वो बोली कि तुम्हें कैसी गर्लफ्रेंड चाहिए? मुझे बताओं, तो मैंने झट से बोल दिया कि बिल्कुल तुम्हारे जैसी और वो एकदम चुप हो गयी. फिर मैंने बोला कि क्या हुआ? तो उसने मुझे बोला कि मुझे भी तुम बहुत अच्छे लगते हो. तो बस मैंने तुरंत मेम से कहा कि मेम आई लव यू. फिर मेम बोली कि नहीं ये ग़लत है, अभी मेरी शादी होने वाली है और तुम मेरे स्टूडेंट हो, हम दोनो दोंस्त ही अच्छे है. फिर मैंने मेम को बहुत समझाया और मेम को बोला कि हम किसी को भी पता नहीं लगने देंगे कि तुम मेरी गर्लफ्रेंड हो और ऐसे ही चलने देंगे ना, फिर मेम बोली कि में सोचूँगी. फिर बस मुझे ग्रीन सिग्नल मिल चुका था फिर हम रात को घर आए. हम दोनों को भी नींद नहीं आ रही थी और हम दोनों विचार में मग्न थे और करवटे बदल रहे थे.फिर सुबह में उठा तो 10 बजे थे और मेम कॉलेज चली गयी थी. फिर में बाथरूम में नहाने गया तो उधर मुझे एक लेटर मिला जिसमे लिखा था कि कल से अकेले हॉल से देखकर मुठ नहीं मारना सीधे मेरे साथ ही नहाने आ जाना और नीचे लिखा था आई लव यू अंकुश. दोस्तों ये कहानी आप रियल हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है।यह सब पढ़कर में इतना खुश हुआ कि बता नहीं सकता. फिर मैंने मेम को तुरंत फोन किया और मेम से बोला थैंक यू सो मच. तो मेम बोली कि हाँ ठीक है अभी में घर आती हूँ, फिर हम बातें करेंगे. मैंने एक प्लान बनाया आज हमारी सुहागरात होने वाली थी तो मैंने हॉल में कैंडल लाईट डिनर का अरेंजमेंट किया और बेडरूम सज़ा दिया.

फिर मेम 7 बजे घर आई तो मैंने दरवाजा खोला तो वो देखकर हैरान रह गयी. फिर मैंने उनके लिए लाया हुआ एक ड्रेस उनको दिया और कहा कि ये पहनकर आओ.फिर वो अंदर गयी और तैयार होकर आई तो में तो बस उन्हें देखता ही रह गया. वो क्या सेक्सी लग रही थी? बता नहीं सकता. फिर हमने डांस किया, केक काटा और ड्रिंक पिया, फिर डिनर करने लगे. तब मैंने मेम से पूछा आपको कैसे पता कि में आपको देखकर मूठ मरता हूँ. तो वो बोली एक तो में अब तुम्हारी गर्लफ्रेंड हूँ तो मुझे मेम कहना बंद करो और में पागल नहीं हूँ कि मुझे कुछ समझ ना आए.फिर में डिनर के बाद बालकनी में जाकर सिगरेट पीने लगा और मेम डाइनिंग टेबल साफ़ कर रही थी. फिर वो काम ख़त्म करके वो बालकनी में आई और मुझे पीछे से हग किया और बोली कि आज में बहुत खुश हूँ थैंक यू सो मच. दोस्तों ये कहानी आप रियल हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है।फिर मैंने उनको आगे घुमाया और सीधा उनके लिप पर किस करने लगा. फिर वो भी मेरा साथ देने लगी.फिर वो उसकी जीभ को मेरे लिप पर और जीभ पर घूमाने लगी, ऐसा 10 मिनट तक किस करने के बाद में उनका ड्रेस निकालने लगा, तो वो मना करने लगी तो मैंने कहा क्या हुआ? तो वो बोली अंदर चलो बाहर नहीं, फिर में उसको गोद में उठाकर अंदर ले गया. फिर मैंने उसका ड्रेस उतारा, वो अब सिर्फ़ पेंटी में थी क्या कड़क माल लग रही थी? अब मेरा सपना सच हुआ था. में पागलों की तरह उसे चूमने लगा और बूब्स दबाने लगा.

फिर उसने मेरे कपड़े उतारे और फिर में टीचार के बूब्स को चूसने लगा, उसके बूब्स क्या टेस्टी थे यार? फिर मैंने उसको बेड पर बैठाया और मेरा 6 इंच का लंड टीचार के मुँह में डाल दिया. वो पागलों की तरह लंड चाटने लगी और सक करने लगी. फिर मैंने उसका सिर पकड़ा और ज़ोर-ज़ोर से आगे पीछे करने लगा, तो मेरे मुँह से आह हेमा, आह आह आआअ आवाज़ निकल रही थी. फिर 15 मिनट के बाद में उसके मुँह में ही झड़ गया. फिर उसने अपनी पेंटी उतारी और में उसे लिक करने लगा तो वो पागलों की तरह चिल्लाने लगी. हाईई आआ उउउफफफ्फ़ और तेज़ अंकुश और तेज़, फिर वो झड़ गयी और में उसका पूरा पानी पी गया. फिर मैंने टीचार को नीचे लेटाया और उसके पैरों को ऊपर किया और मेरा लंड टीचार की चूत पर रखा और एक ज़ोर का झटका मारा तो वो बहुत ज़ोर से चिल्लाई. आह्ह्ह्ह में मर गयी, हाअअहहा धीरे करो ना डार्लिंग. फिर में थोड़ा धीरे-धीरे झटके मारने लगा, तो वो बहुत मौन कर रही थी उतने में उसकी चूत से ब्लडिंग होने लगी तो में रुक गया. फिर मैंने उससे पूछा तुम्हारा पहली बार है क्या? तो वो बोली हाँ और डरने लगी. दोस्तों ये कहानी आप रियल हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। फिर मैंने उससे कहा कि चिंता मत करो पहली बार में ऐसा ही होता है, फिर मैंने वो ब्लड साफ किया और फिर लंड अंदर डालकर शुरू हो गया. वो तो एकदम नशे में आ गयी थी और उसकी चूत एकदम गर्म हो चुकी थी और वो ज़ोर-ज़ोर से मौन कर रही थी. अहहाअ अहह और ज़ोर से लव यू किस मी डार्लिंग फक मी हार्ड अहहह्ह्ह्ह उउफफफफफ्फ़. फिर 20 मिनट के बाद में उसकी चूत में ही झड़ गया और वो एकदम थक सी गयी थी. फिर हम लोग सो गये. कैसी लगी हम डॉनो स्टूडेंट और टीचर की सेक्स स्टोरी , रिप्लाइ जररूर करना , अगर कोई मेरी टीचार की चूत की चुदाई करना चाहते हैं तो उसे अब जोड़ना Facebook.com/HemaSharma

The Author

Hindi xxx story

hindi xxx story, xxx kahani, desi sex story, desi xxx chudai kahani, hindi sex story, bhai behan ki sex xxx story, maa bete ki chudai xxx kahani, baap beti ki xxx story hindi, devar bhabhi i xxx kamasutra story,
Hindi xxx sex story © 2018 Indian Sex Stories