Hindi xxx sex story चुदाई की सेक्स कहानी

Read हिंदी सेक्स स्टोरी, चुदाई की कहानी, Real hindi sex stories, hindi sex story, hindi xxx story, hindi adult story, hindi sex kahani, hindi fuck story, sister brother, mom son sex story hindi, brother sister xxx hindi story, hot hindi sex stories, new sex story, student & teacher sex story with indian hot sex photo

देसी इंडियन लेस्बियन सेक्स कहानी

लेस्बीयन लड़कियों की सेक्स कहानियाँ, Indian xxx lesbian sex hindi story, लेस्बियन चुदाई कहानी, Choot me Baigan Kala mota lamba Dildo Kamuk Lesbian Sex Story, लेस्बियन समलिंगी लड़कियों की चुदाई की कहानियाँ, Lesbian Chudai xxx kahani, Lesbian Kamuk Kahani,

मैने अपने क्लास्स्मेट के साथ किया गया कामुक सेक्स अनुभव बात अपनी बेस्ट फ्रेंड जिससे मै अपनी सब बातें शेयर करती हु, उसे बताई; तो वो भी मस्ती में आ गयी और हम दोनों के बीच जो भी गरमागरम बातें हो, वो आज मै आपके साथ शेयर कर रही हु. मुझे उसे सन्डे को अपने घर बुलाया, क्युकि उस दिन छुट्टी होती है और मेरा भाई घर पर नहीं होता है और मम्मी-पापा भी पुरे दिन आराम के मूड में होते है, तो कोई भी हमारी बातें सुनने वाला या हमें डिसटर्ब करने वाला घर में नहीं होता है. मै अपने क्लास्स्मेट से सेक्स करने के अगले दिन अपनी बेस्ट फ्रेंड सोनाली से स्कूल में मिली और बोला – मेरे घर सन्डे को आना, तुम्हे कुछ इंट्रेस्टिंग बात बतानी है.
फिर वो सन्डे को वो अपने घर के सब काम ख़तम करके और खाना खाके दोपहर को मेरे घर आई और मै उसे अपने रूम में ले गयी. वैसे तो वो रूम मेरा और मेरे भाई दोनों का ही, लेकिन जैसे मैने आपको को बताया, की सन्डे को मेरा भाई घर पर नहीं होता है, तो हम दोनों रूम में अकेले ही थे और मेरे बेड पर लेट गये थे.और मैने उसे अपने और अभि (मेरा क्लासमेट) के बारे में सब बताया, कि मैने कैसे प्लान बनाया और अभि उस प्लान में मेरा शिकार हो गया और हमने कैसे सेक्स किया. मेरी स्टोरी सुनते-सुनते वो भी सेक्स के मूड में आ गयी और अपनी चूत को अपने हाथ से छुने और दबाने लगी. आप ये कहानी रियल हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। वो अपने कामुक चुचे भी दबा रही थी. मेरी स्टोरी ख़त्म होने के बाद वो मुझसे बोली – साली तू तो बड़ी चालू निकली और मुझे कभी कुछ बताया भी नहीं .. चुदकड़ साली … मुझे भी अभि के साथ सेक्स करना है. फिर मैने थोडा नकली में उदास होते हुए कहा – यार ये तो मेरा घर है और मै उसे अपने घर नहीं बुला सकती. मेरे बात ख़तम होते ही, वो मेरे ऊपर चढ़कर बैठ गयी और बोली – साली, तू अपनी मर्जी से कुछ भी करे; लेकिन मै अभी बहुत गरम हु और मुझे आज सेक्स किसी भी तरह से करना ही है. मुझे अब उसकी बात उनकर डर लगने लगा था और मन में सोचने लगी थी, कि इसे अपनी और अभि के बीच हुए सेक्स की बात बता कर गलती कर दी. हम दोनों एक दुसरे को ही देख रहे थे और ऐसे ही देखते-देखते वो अपने मुह को मेरे मुह के पास ले आई. मुझे बड़ा अजीब लग रहा था, तो मैने उसे जोर से धक्का मार दिया.

और कहा – क्या कर रही, यार? मै वैसी नहीं नहीं हु, जो तो मेरे साथ करना चाहती है. फिर वो बोली – मै भी वैसी नहीं हु और अपनी लेगीग नीचे करते हुए बोली – देख तेरी स्टोरी सुनते – सुनते मेरी पुसी पूरी गीली हो गयी है. मेने उसे बोला – कैसी है तू! साली स्टोरी सुनते-सुनते ही झड़ गयी. वो नीचे से नंगी हो चुकी थी और उसकी स्टाइल पेंटी को देखकर मैने कहा – तू तो बड़ी स्टाइल वाली पेंटी पहनती है. मै मुस्कुराते हुए, उसकी पेंटी की तरफ देख रही थी. उसने कुछ सोचते हुए कहा – चल हम भी करते है. तो मैने उसे कहा – कि क्या करते है तो उसने बोला – क्या क्या, सेक्स! मैने उसे मजाक में बोला – मेरे पास लंड नहीं है पुसी है और वो तेरी पुसी में नहीं जाएगी और हम दोनों हसने लगे और बहुत गन्दी-गन्दी बातें करने लगे और बाते करते-करते, मै भी गरम हो गयी और झड़ गयी. आप ये कहानी रियल हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। तब मैने उसे बताया; तो अब वो मुझे छेड़ने लगी. तब उसने मुझे एक लिपलॉक किस देने के लिए कहा. अब मेरा भी मूड बन गया था. पर जब मैनेउसकी तरफ देखा, तो सोचने लगी, कि क्या ये सही होगा; क्युकि मुझे ये सब गलत लग रहा था.लेकिन हम दोनों के मुह एक दुसरे के बहुत करीब आ चुके थे और एक दुसरे की गरम साँसों को महसूस करने लगे थे. हम दोनों एक दुसरे की और भी पास आ चुके थे और किस करने लगे थे. ये उसका पहला किस था और मेरा भी “किसी लड़की के साथ पहला ही किस था”. लेकिन, हम सब कुछ भूलकर एक दुसरे को किस कर रहे थे. हम दोनों बहुत लम्बी और देर तक किस करते रहे, अब वो मेरे ऊपर आई और हम किस करने लगे और मै उसकी गांड को दबा रही थी और उसे किस कर रही थी. उसकी पेंटी बहुत चिकनी थी; इसलिए मुझे पेंटी के ऊपर से उसकी गांड दबाने में और ऊपर से उसकी गांड को सहलाने में मज़ा आ रहा था और वो अपने हाथो से मेरे टॉप के ऊपर से ही मेरे बूब्स दबा रही थी. मैने लूज़ टी-शर्ट पहनी थी. क्युकि मै घर में थी इसलिए मैने ब्रा नहीं पहनी हुई थी और जब वो टी-शर्ट के ऊपर से मेरे बूब्स दबा रही थी, तो मुझे वैसे ही महसूस हो रहा था जैसेकि वो मेरे डायरेक्ट बूब्स पकड़ रही हो और अब मैने अपने हाथ उसकी पेंटी में डाल दिए और उसकी चिकनी गांड पर अपने हाथ फिराने लगी और उसने मेरी टी-शर्ट के अन्दर अपने हाथ डाल कर मेरे बूब्स को पकड़ लिया और उनको दबाने लगी.

और वो बहुत जोर-जोर से मेरे बूब्स दबा रही थी. तो मैने उसे धीरे करने को कहा. हम अभी भी किस कर रहे थे और मै झड़ गयी और मैने उसे अपने ऊपर से हटा दिया और बोला – मै झड़ चुकी हु. तब उसने मेरी पुसी दखने की जिद की और इतना कुछ होने के बाद, मै भी मना नहीं कर पाई और मैने सिर्फ उसे बोला – तुझे भी अपनी पुसी दिखानी होगी. तो उसने हाँ बोला दिया. अब उसने मेरी लेग्गिंग निकलवा दी और हम दोनों ने अपनी पेंटी एक साथ निकाल दी. फिर वो मुझसे बोली – ले देख ले पहले मेरी पुसी. तो मैने उसकी पुसी देखि और देखती ही रही. क्युकि उसकी पुसी पर बहुत बाल थे और वो काफी बड़े हो गये थे. मैने क्लास्स्मेट की पुसी को हाथ लगाया, तो उसने अपनी आँखे बंद कर ली और अपनी गांड पीछे की तरफ झुका ली और “अह्ह्हह्ह्ह्ह अह्ह्ह्ह” करने लगी, तो मैने भी उससे पूछा – तुझे अच्छा लगा रहा है? तो वो बोली – आज पहली बार किसी और ने मेरी पुसी को हाथ लगाया है. आप ये कहानी रियल हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। मै धीरे-धीरे उसे रगड़ने लगी और फिर थोड़ी देर देर बाद अपनी स्पीड बढाती रही और उसकी आवाज़े भी बहुत हॉट होने लगी थी और फिर मैने एक हाथ से उसका टॉप ऊपर किया. उसने ब्रा पहनी हुई थी. इसलिए में ठीक से उसके बूब्स को दबा नहीं पा रही थी. तो मैने उसे उतारने को कहा और उसने बिना कुछ बोले ही अपनी ब्रा उतार दी. और अब मै उसकी पुसी को और जोर से रगड़ रही थी, पर अब वो झड़ने ला नाम ही नहीं ले रही थी. तो फिर मैने अपनी एक ऊँगली उसे बिना बोले, जोर से उसकी पुसी में डाल दी और वो जोर से “आआआआ hhhhhhhhhhh” चिल्लाई. तो मैने उसे बोला – कुछ नहीं होगा और ऊँगली अन्दर-बाहर करने लगी और से कोई असर ही नहीं हो रहा था, क्युकि वो एक ऊँगली से खुद ही अपने घर में फिन्गेरिंग करती थी ये मुझे पता था. इसलिए अब मैने अपनी और दो उंगलिया उसकी चूत में डाल दी और अन्दर-बाहर करने लगी. अब उसे जोर से दर्द हो रहा था और उसकी पुसी से खून भी निकलने लगा था. अब मै समझ गयी, की आज मैने भी किसी की सील तोड़ दी है और फिर मैने उसे बताया, कि आज मैने तेरी सील तोड़ दी है और खून निकल रहा है.

फिर वो बोली – यार ये सील तुडवाने के लिए मैने कब से बेताब थी, लेकिन कोई नहीं मिला था. थैंक्स बेबी! आई लव यू. और मैने भी उसे आई लव यू बोला और कुछ ही देर में वो झड़ गयी और उस साली ने अपना सब पानी मेरे बेड पर छोड़ दिया और पूरी बेडशीट गन्दी कर दी. हम दोनों वैसे ही बेड पर लेटे रहे और पूरी नंगी थी और मैने टी-शर्ट पहनी हुई थी. फिर हमने एक दुसरे को किस किया और एक दुसरे को थैंक्स बोला. फिर वो बोली – सुन साली, अभी तो मैने तुझसे काम चला लिया; लेकिन मुझे अभिके साथ एक बार तो सेक्स करना ही है. वो कैसे होगा, वो सोचना तेरा काम है. लेकिन, अगर तुमने मेरी हेल्प नहीं की, तो मै तुझे ऐसे ही परेशान करुँगी, चाहे रूम में तेरा भाई हो या ना हो. तो मैने उसे ओके बोल के प्रॉमिस किया, कि जल्दी ही मै तुझे बुला लुंगी और हम दोनों ने एक साथ लम्बा किस किया और वो अपने कपडे पहन कर अपने घर चली गयी.कैसी लगी हम डॉनो क्लास्स्मेट की लेस्बियन सेक्स स्टोरी , रिप्लाइ जररूर करना , अगर कोई मेरे साथ लेस्बियन सेक्स का मज़ा करना चाहते हैं तो अब जोड़ना Facebook.com/KomalSharma

The Author

Hindi xxx story

hindi xxx story, xxx kahani, desi sex story, desi xxx chudai kahani, hindi sex story, bhai behan ki sex xxx story, maa bete ki chudai xxx kahani, baap beti ki xxx story hindi, devar bhabhi i xxx kamasutra story,
Hindi xxx sex story © 2018 Frontier Theme