Hindi xxx sex story चुदाई की सेक्स कहानी

Read हिंदी सेक्स स्टोरी, चुदाई की कहानी, Real hindi sex stories, hindi sex story, hindi xxx story, hindi adult story, hindi sex kahani, hindi fuck story, sister brother, mom son sex story hindi, brother sister xxx hindi story, hot hindi sex stories, new sex story, student & teacher sex story with indian hot sex photo

प्यासी मामी की कामबसना

मामी की चुदाई hindi sex story, मामी की प्यास बुझाई xxx chudai kahani, मामी को चोदा real sex story, mami ki chudai  हिंदी सेक्स कहानी, मामी के साथ चुदाई की कहानी, मामी के साथ सेक्स की कहानी, mami ko choda xxx hindi story,

मामी की उम्र 30 साल है, उनका साईज़ 36-30-36 है और वो बहुत सुंदर है और साड़ी में वो बहुत सेक्सी और हॉट लगती है, काश कर हरी, पीली और लाल कलर की साड़ी में वो ज्यादा सेक्सी लगती है.फिर हुआ ऐसा कि में कुछ दिनों के लिए अपने मामा के घर गया था, क्योंकि मेरी छुट्टियाँ चल रही थी, बहुत दिन हो गये थे और में मामी से नहीं मिला था, मामी ने भी आग्रह किया था कि मुझसे मिलने आओ तो में अकेला ही गया. जब मैंने घर में प्रवेश किया तो मेरी मामी मुझे देखकर बहुत खुश हुई और मुझे गले से लगा लिया, क्योंकि में उनका सबसे प्यारा हूँ, मामी की चेहरे पर खुशी दिखाई दे रही थी. फिर मामी ने चाय और नाश्ता का इंतज़ाम किया और बाक़ी सब फेमिली के बारे में और मेरी पढाई के बारे में हालचाल पूछा.

अब ऐसे ही कुछ 4-6 दिन और बीत गये, मामा तो घर पर नहीं थे, मामा साल दो साल जहाज पर ही होते थे तो मामी बहुत अकेला महसूस कर रही थी. फिर मामी ने कहा चलो कहीं घूमने चले तो में झट से तैयार हो गया और हम दोनों घूमने चले गये, उस दिन मामी बहुत खुश थी. मेरे मामा और मामी की शादी को शायद 4 साल हो गये थे, लेकिन उनके कोई औलाद नहीं है तो एक दिन रात के कुछ 11 बजे थे तो में एक इंग्लिश मूवी लगाकर देख रहा था तो मामी ने मेरे रूम का दरवाजा खटखटाया.

मामी – विराट, परेशान तो नहीं किया ना.

में – नहीं मामी आप इतनी रात को कैसे? सब ठीक तो है ना.

मामी – नहीं विराट, बस ऐसे ही नींद नहीं आ रही थी तो सोचा कि तुम से बात कर लूँ, तुम्हें कोई परेशानी तो नहीं है ना?

में – नहीं मामी मुझे कोई भी परेशानी नहीं है आप जब चाहें मुझसे बात कर सकती है.

मामी – अच्छा ठीक है, वैसे मुझे आज अकेले सोने में डर लग रहा है तो क्या तुम मेरे कमरे में आकर सो सकते हो?

में – अरे मामी, आप ही आ जाओ ना मेरे कमरे में, वैसे भी घर तो खाली है. (मैंने शरारती स्माईल के साथ जवाब दिया)

मामी – अच्छा सिर्फ़ हम दोनों अकेले तो है, लेकिन मेरा अकेलापन कौन दूर करेगा? तेरे मामा जो कि मुझे यहाँ पर अकेला छोड़ कर चले गये है.

में – मामी आप किसी भी बात की चिंता मत करो, यहाँ पर आपके साथ में हूँ ना, आपको खुश रखूँगा और आप कुछ दिनों के बाद मामा को भूल जायेगी. (मैंने फिर से स्माईल के साथ जवाब दिया)

मामी – अच्छा जी.

में – हाँ मामी, वैसे एक बात कहूँ मामी.

मामी – हाँ बोलो.

में – आप मामा के बिना कैसे दिन काटती हो?

मामी – बस यू ही दिन काटती हूँ और.

में – और क्या मामी?

मामी – (मेरी आँखो में आँखे डालकर) ये मेरी उदासी, तन्हा रातें, तभी मामी उठकर वॉशरूम में चली गयी.

मामी ने अपने आपको अच्छा मैनटेन किया हुआ था, अब मामी चेंज करने चली गई और में मूवी देखने लगा, ओह माई गॉड जब मामी अपनी नाईटी पहनकर आई तो क्या मस्त माल लग रही थी? उनकी जांघो तक की काले कलर की नाईटी में उनके 36 इंच के बूब्स पहाड़ लग रहे थे. अब मेरा मन कर रहा था कि इन्हें आज चूसकर सारा रस पी जाऊँ, शायद मामी ने मुझे उनके बूब्स को देखते हुए देख लिया था और अब वो अपने आपको थोड़ा अच्छा महसूस नहीं कर थी तो वापस जाकर एक सलेक्स पहन आई. फिर मामी मेरे पास आकर टी.वी. देखने लगी.

मामी – अपनी गर्लफ्रेंड को तो नहीं बताया ना कि तुम आज यहाँ पर हो.

में – नहीं मामी, उसे पता चलेगा तो वो पता नहीं क्या सोचेगी?

मामी – क्या सोचेगी?

में – यही कि में किसी खुबसूरत लड़की के साथ होगा.

मामी – (हंसने लगी) में खुबसूरत कहाँ से लगती हूँ यार मज़ाक मत करो.

में – अरे मामी, जो अभी आप पहनकर आई थी, उसे पहनकर कभी मामा को दिखना, वो बतायेंगें कि आप कितनी सुंदर हो?

मामी – हाँ हाँ हाँ, तुम ही बता दो में कितनी स्मार्ट लग रही थी.

में – एकदम माल, मन कर रहा था कि.

मामी – शैतान, तुम बड़े हो गये हो तुम्हारी माँ से बात करके उन्हें बोल देती हूँ कि लड़के की शादी कर दो.

में – हाँ बोल दो और अपना चेहरा बता देना कि उसे ऐसी लड़की पसंद है.

मामी – अच्छा तुम्हें मुझमें क्या अच्छा लगता है?

में – आप बुरा मान जाओगी.

मामी – अरे नहीं बताओं ना.

में – नहीं आप बुरा मान जाओगी.

मामी – अरे नहीं तुम्हारी कसम बताओ ना.

में – जब आप सीढ़ियों से उतर रहे थे और मेरा लंड जब वहां लगा था, मुझे आपकी वो बहुत मस्त लगती है.

मामी – (थोड़ा शरमाते हुए) अच्छा जी लड़का सच में बड़ा हो गया है. फिर मज़ाक-मज़ाक में उन्होंने मेरी जांघ पर अपना हाथ मारा. मेरा तो लंड उन्हें देखकर पहले से ही खड़ा था और ग़लती से उन्होंने मेरे लंड को पकड़ लिया, उनका स्पर्श पाकर तो मेरा लंड और ज्यादा खड़ा हो गया और फिर मैंने उनकी आँखो में देखा तो उन्हें भी मेरा लंड पकड़कर बहुत अच्छा लग रहा था.

मामी – शरमाते हुए, चलो अब में सोने जा रही हूँ.

में – ओके, मामी गुड नाईट.

अब तो मेरा बुरा हाल हो रहा था और में सोच रहा था कि शुरू कहाँ से करूँ? इतने में सुधा मामी की आवाज़ आई कि विराट मुझे डर लग रहा है मेरे रूम में ही सो जाओ. फिर मैंने कहा कि ओके में आता हूँ. फिर में अंदर बेडरूम में गया, अब मामी बेड पर कंबल ओढ़कर लेटी हुई थी. फिर मैंने बोला कि मामी आप बेड पर सो जाओ और में सोफे पर सो जाऊंगा.

मामी – ओके.

फिर थोड़ी देर के बाद मामी वॉशरूम में गयी, अब मुझे नींद आने ही वाली थी कि इतने में मुझे जोर से आवाज़ आई तो मेरी नींद खुली. फिर मामी की आवाज़ आई कि विराट तो में जैसे ही वॉशरूम में गया तो मामी गिरी हुई थी. फिर मैंने उन्हें सहारा देकर उठाया और उन्हें गोदी में उठा लिया, वैसे तो वो थोड़ी मोटी है, लेकिन में जिम जाता हूँ तो मैंने उन्हें आसानी से उठा लिया.आप ये चुदाई रियल हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है।
फिर मैंने देखा कि उन्होंने सलेक्स नहीं पहनी हुई थी और जब मैंने उन्हें गांड से उठाया तो मेरे हाथों को उनकी पेंटी का एहसास हुआ और मेरा शैतान लंड फिर से खड़ा हो गया और अब मेरा लंड उनके पेट पर लगने लगा था. फिर मैंने उन्हें बेड पर लेटाया और पूछा कहाँ लगी है? फिर उन्होंने इशारा किया और कहा कि जो चीज़ तुम्हें सबसे ज्यादा पसंद है तो में समझ गया कि इनकी गांड पर चोट लगी है. फिर मैंने मामी से बोला लाओ में तेल से मालिश कर दूँ. फिर उन्होंने इशारा किया कि तेल वहाँ रखा है.फिर मैंने उन्हें मुँह के बल सर रखकर लेटने को कहा, उन्हें इतना दर्द हो रहा था कि उन्हें होश ही नहीं था. फिर जब वो अपने मुँह के बल लेटी तो उनकी नाईटी ऊपर हो गई और मुझे उनकी गांड के दर्शन हो गये, उन्होंने लाल कलर की पेंटी पहनी हुई थी. अब मेरा 8 इंच का लंड फुल साईज़ में आ गया था.

फिर में उनकी गांड की मालिश करने लगा और में अपने होश खोने लगा और मैंने उनकी गांड पर एक किस कर दिया, शायद उन्हें पता चल गया था कि में क्या कर रहा हूँ? और उनका दर्द भी ख़त्म होने लगा था. फिर मैंने उन्हें बोला कि मामी आपकी पेंटी बीच में आ रही है इसे उतार दो तो उन्होंने कहा कि तुम ही उतार दो. फिर मैंने उनकी पेंटी उतारी, आाहह यार उनकी क्या मस्त गांड थी? मेरा तो मन कर रहा था कि इसे अभी कुत्तिया बना दूँ और इसकी चूत में अपना लंड घुसा दूँ.आप ये चुदाई रियल हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। फिर मैंने अपने कपड़े फटाफट उतारे और अपने लंड को उनकी गांड पर फेरने लगा, अब उन्हें भी बहुत मज़ा आ रहा था और अब वो पलट गई, उनकी आँखे बंद ही थी. फिर मामीने अपनी चूत पर हाथ रखकर बोला कि इसमें भी दर्द है इस पर भी लगाओ ना, क्या चूत थी दोस्तों उनकी? एकदम 18 साल की लड़की की तरह पिंक-पिंक और छोटे-छोटे बाल, जैसे 3 दिन पहले शेव की हो. फिर मैंने उनकी चूत के ऊपर हाथ फेरा और मामी मौन करने लगी, आआअईईई आआआआअ आआअह्ह्ह्हह.फिर में उन्हें अपनी ऊँगली से चोदने लगा और मामी अपने हाथ से चादर को कसकर पकड़े हुए थी और उनकी आवाज़ पूरे कमरे में गूँज रही थी, आआआआआआआअ आईसस्स्सस्स्स्सस्स्स्स उउउह्ह्ह्हह्ह्ह्ह. अब में मामी की 69 पोज़िशन में गया और उनकी चूत चाटने लगा, अब वो एकदम हैरान हो गयी और उछल पड़ी, शायद मामा ने कभी उनकी चूत चाटी नहीं थी तो मामी की चीख निकल पड़ी कि विराट ये क्या कर रहे हो? आआआआआआआआआआआआआअ आई लववववववववववववववव यू विराट, एयाया और चाटो मेरी चूत को, खा जाओ इसे, आआआआआआअ और इतना बोलकर उन्होंने मेरा लंड अपने मुँह में ले लिया.

मामी – तुम्हारा विराट कितना बड़ा है? प्लीज इसे मेरी चूत में डाल दो, प्लीज.

में – मेरी जान अभी चूत तो चाटने दो, मुझे चूत चाटना बहुत पसंद है.

फिर मैंने अपनी जीभ मामी की चूत में डाली तो उनके बर्ताव से ऐसा लग रहा था जैसे मानो वो जन्नत में है. फिर मैंने मामी से पूछा कि मामी कंडोम है क्या? फिर उन्होंने बोला कि अलमारी में से ज़ाकर ले लो. फिर में कंडोम लाया और मामी को मुझे पहनाने कहा तो उन्होंने बहुत प्यार से मेरा लंड चूसा और उस पर कंडोम चढ़ाया.आप ये चुदाई रियल हिंदी सेक्स स्टोरिज़ डॉट कॉम पर पड़ रहे है। उस रात मैंने मामी की 2 बार चूत की चुदाई की और उनके कहने पर 1 बार गांड भी मारी. में मामी के घर पर 15 दिन तक रुका हुआ था, उन 15 दिनों में मैंने उनको इतना संतुष्ट कर दिया था कि वो अब मामा से नहीं मुझसे ज़्यादा चुदवाना चाहती है. अब जब में उनके घर से मेरे घर के लिए रवाना हुआ, तब मामी ने मुझसे जाते वक़्त भी चुदवाया, वो एक चुदक़्कड़ औरत है और इसमें कोई भी बुरी बात नहीं है. में आज जब भी मामा के यहाँ पर जाता हूँ, तब मामी से मिलकर और उनकी चुदाई करके ही निकलता हूँ.अगर कोई मेरी मामी की प्यासी चूत की चुदाई करना चाहते हैं तो उसे अब जोड़ना Facebook.com/NainaBhabhi

The Author

Hindi xxx story

hindi xxx story, xxx kahani, desi sex story, desi xxx chudai kahani, hindi sex story, bhai behan ki sex xxx story, maa bete ki chudai xxx kahani, baap beti ki xxx story hindi, devar bhabhi i xxx kamasutra story,
Hindi xxx sex story © 2018 Frontier Theme